कन्नौज में इत्र कोई आज से नहीं, बहुत वर्षों से यहां इत्र बन रहा है: अखिलेश
कन्नौज में अखिलेश यादव की प्रेसवार्ताSocial Media

कन्नौज में इत्र कोई आज से नहीं, बहुत वर्षों से यहां इत्र बन रहा है: अखिलेश

समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा- कन्नौज समाजवादियों से जुड़ा हुआ क्षेत्र रहा है, यहां का अगर इतिहास उठा कर देखेंगे यहां पर भाईचारे और सौहार्द का इतिहास रहा है।

उत्‍तर प्रदेश, भारत। उत्‍तर प्रदेश के कन्नौज शहर में इत्र कारोबारियों की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही रही हैं। आयकर विभाग की टीम छापेमारी कर कार्रवाई कर रही है इस बीच आज 31 दिसंबर को समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव प्रेस कॉन्फ्रेंस की है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने कहा- यह प्रेस पहले से ही तय थी और इसलिए आप लोगों से मैं बातचीत करना चाहता था, इधर लगातार पिछले कई दिनों से पिछले महीने से यह सूचनाएं आ रही थी कि, समाजवादियों के ऊपर छापे पड़ेंगे कई बार अखबार में भी छोटी-छोटी बड़ी-बड़ी खबरों में पढ़ने को मिलता था कि, समाजवादियों के वहां छापे पड़ेंगे।

समाजवादी पार्टी से जुड़े हुए लोगों के ऊपर छापे पड़ रहे हैं और दिल्ली से जब भी भारतीय जनता पार्टी का यूपी में कार्यक्रम होता है लगता है कि, अपने साथ में इन विभागों को भी बुलाते हैं। कन्नौज समाजवादियों से जुड़ा हुआ क्षेत्र रहा है, यहां का अगर इतिहास उठा कर देखेंगे यहां पर भाईचारे और सौहार्द का इतिहास रहा है।

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव

कन्नौज की अपनी पहचान इत्र की रही :

अखिलेश यादव ने कहा- कन्नौज में इत्र कोई आज से नहीं बन रहा है बहुत वर्षों से यहां इत्र बन रहा है। कन्नौज की अपनी पहचान इत्र की रही है, कन्नौज इत्र के लिए यह राजधानी है, यह सुगंध की राजधानी है। यह इत्र का कारोबार बहुत बड़ा कारोबार है, बड़े लोगों को नौकरी, बड़े लोगों को रोजगार देता है, यहां एक परफ्यूमरी पार्क लाया गया था।

  • BJP वालों ने कॉउ मिल्क प्लांट का सत्यानाश कर दिया है। इंजीनियरिंग कॉलेज जैसा बना था, वैसे का वैसा ही आज पड़ा हुआ है।

  • पैरामेडिकल यहां पर शुरू होना चाहिए था लखनऊ में और जगह बड़े-बड़े शहरों में जिस तरह से बिल्डिंग में बनती है उस तरह का पैरामेडिकल है उसका काम भी ठप कर दिया।

  • कार्डियोलॉजी का डिपार्टमेंट था वह ठप कर दिया। कैंसर का प्राइमरी इलाज हो जाए वह भी बंद कर दिया। मेडिकल कॉलेज में जो ऑक्सीजन प्लांट बनना था, लगना था, वह नहीं लगाया।

  • कन्नौज में कोई भी विकास का काम बड़ा नहीं किया है। अगर कन्नौज में विकास का कोई बड़ा काम किया है तो कोई हमें बताएं?

  • जो सड़कें सपा सरकार में बन रही थी उनको भी अभी पूरा नहीं कर पाए हैं, ना काली नदी पर नया पुल, ना गंगा पर कोई पुल बनाया है, ना स्टेडियम जो समाजवादियों ने दिया था वह स्टेडियम भी नही बन पाया।

  • मंडियां बनी थी, मंडी अभी वैसे की वैसी ही पड़ी हुई हैं चुनाव आ गया है, इसलिए सिर्फ उसकी पुताई कर दी है। हमारे सपेरों के लिए एक "स्नेक चार्मर्स विलेज" बना था जितना सपा ने काम किया वही रुक गया।

  • मैं इन बातों को इसलिए बता रहा हूं पहले दिन से यहां के लोगों ने देखा है कन्नौज के साथ किस तरह से व्यवहार हुआ है। कन्नौज के साथ जो पॉलिटिकली व्यवहार हुआ वह मैंने आज सामने रखा है।

  • यह भारतीय जनता पार्टी के लोग नफरत की दुर्गंध फैलाने वाले यह सौहार्द की सुगंध को कैसे पसंद करेंगे? जानबूझकर यह लोग सपा को तो बदनाम करना ही चाहते हैं, लेकिन दुख बात ये है कि लखनऊ से लेकर दिल्ली वाले तक कन्नौज जिसका इतिहास सुगंध और इत्र का है इसी से इसकी पहचान दुनिया में है उसको बदनाम करने में लगे हुए हैं।

  • पहले दिन से कह रहे हैं जिस जगह पहले छापा मारा इन्होंने, उससे समाजवादी पार्टी का कोई रिश्ता नहीं है। जिस पर छापा पड़ा पहली बार, उससे BJP और BJP के लोगों का का संबंध है।

  • भारतीय जनता पार्टी बताए इतने बड़े पैमाने पर रुपया कैसे निकला? जिस BJP ने बताया कि, नोटबंदी के बाद कालाधन नहीं आएगा, GST लागू हो जाने से व्यापार का सरलीकरण होगा इससे व्यापार अच्छा हो सकेगा। क्या हुआ?

  • ढूंढने गए थे सपा के पुष्प राज जैन को और खोज निकाला इन्होंने BJP के सहयोगी पीयूष जैन को। अब अपनी इस गलती की खींज मिटाने के लिए इन्होंने फिर छापा मारा है। उन पुष्प राज जैन पर जिन्होंने समाजवादी इत्र बनाया है। इसके लपेटे में और भी कई व्यापारी लोग आ गए हैं।

  • यह भाजपा के लोग नफरत फैलाने वाले लोग हैं। जहां-जहां चुनाव होता है और उन्हें लगता है कि यह हार रहे हैं वहाँ ये छापा मारते हैं। जैसे जैसे भाजपा को हार का डर और हारने के करीब पहुंचेगी न जाने कितनी बड़ी संख्या में नेता आपको UP में दिखाई देंगे। उन्हें हार सताने लगी हैं, जबसे हार दिखाई दे रही है दिल्ली से न जाने कितने नेता आ गए हैं और यह नेताओं का आना रुकेगा नहीं। इसलिए जब जब यह लोग आते हैं तो इन्हें अपने साथ लेकर आते हैं। जनता ने यह मन बनाया है कि जिस समय चुनाव होगा भारतीय जनता पार्टी का सफाया होगा। जनता इनके कार्यक्रमों में नहीं जा रही है।

  • केवल नेता नहीं दिखाई देंगे बल्कि इनके जो सहयोगी संगठन है इनकम टैक्स,ED,CBI जिनसे इन्होंने गठबंधन किया है। हमने तो क्षेत्रीय दलों से गठबंधन किया है लेकिन BJP ने अंदर से इन लोगों से हाथ मिला लिया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.