सभी गैर-भाजपा दलों को साथ आना चाहिए : सिद्धारमैया
सभी गैर-भाजपा दलों को साथ आना चाहिए : सिद्धारमैयाSocial Media

सभी गैर-भाजपा दलों को साथ आना चाहिए : सिद्धारमैया

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सिद्धारमैया ने आरोप लगाया कि केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने विपक्षी नेताओं को डराने के लिए केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल करने का सबसे खराब तरीका अपनाया है।

बेंगलुरु। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने आरोप लगाया कि केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने विपक्षी नेताओं को डराने के लिए केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल करने का सबसे खराब तरीका अपनाया है। उन्होंने कहा कि केंद्र के नापाक इरादे के खिलाफ लड़ने के लिए सभी गैर-भाजपा दलों को एक साथ आगे आना चाहिए। विधानसभा में विपक्ष के नेता सिद्धारमैया ने नेशनल हेराल्ड के विषय में एआईसीसी अध्यक्ष सोनिया गांधी और नेता राहुल गांधी को लगातार समन जारी करने के विरोध में गुरुवार को कांग्रेस पार्टी द्वारा बुलाई गई राजभवन चलो पदयात्रा आरम्भ करने से पहले केपीसीसी कार्यालय के सामने प्रदर्शनकारियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि देश में लोकतंत्र खतरे में है। उन्होंने कहा कि इस तरह के व्यवहार के खिलाफ देशव्यापी संघर्ष शुरू होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस प्रमुख एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, द्रमुक प्रमुख एवं तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन और समाजवादी पार्टी के अखिलेश यादव सहित सभी गैर-भाजपा नेताओं को केंद्र सरकार के खिलाफ लड़ाई में हाथ मिलाना चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा के अलोकतांत्रिक रास्ते को हराना चाहिए।

श्री सिद्धारमैया ने कहा कि भाजपा और उसकी पार्टी के नेता अपनी हार को लेकर संशय में हैं तथा परेशान हैं। उन्होंने दावा किया है कि कर्नाटक की जनता अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा को सत्ता से बेदखल कर देगी और 2024 के लोकसभा चुनाव में भी भाजपा को हार का सामना करना पड़ेगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co