असम में अमित शाह- जनता को बताए विधानसभा चुनाव के लिए आपके पास हैं 2 विकल्प
असम में अमित शाह- जनता को बताए विधानसभा चुनाव के लिए आपके पास हैं 2 विकल्पTwitter

असम में अमित शाह- जनता को बताए विधानसभा चुनाव के लिए आपके पास हैं 2 विकल्प

असम के मार्गेरिटा में अमित शाह की जनसभा, कहा- कुछ ही दिनों में आप सभी को पांच साल असम का शासन किस पार्टी और किस व्यक्ति के हाथ में रहेगा वो तय करना है।

असम, भारत। असम में विधनासभा चुनाव की उल्टी गिनती चालू है, सारी पार्टियां चुनाव प्रचार में जुट गई हैं। इसी क्रम में आज देश के गृह मंत्री अमित शाह असम के मार्गेरिटा में जनसभा को संबोधित करने पहुंचे।

अमित शाह ने बताया क्‍यों आए असम :

जनसभा के दौरान अपने संबोधन में अमित शाह ने कहा- आज हम यहां पर आने वाले असम विधानसभा चुनाव में अगली सरकार किसकी बनेगी इसके निर्णय के लिए यहां आए हैं। कुछ ही दिनों में आप सभी को पांच साल असम का शासन किस पार्टी और किस व्यक्ति के हाथ में रहेगा वो तय करना है।

शाह ने जनता को बताए चुनाव के दो विकल्प :

इस दौरान अमित शाह ने कहा, असम में आने वाले विधानसभा चुनाव में आपके पास दो विकल्प हैं-

  • एक विकल्प नरेन्द्र मोदी जी और सर्वानंद सोनोवाल जी के नेतृत्व वाला भाजपा व असम गण परिषद का है।

  • दूसरा विकल्प राहुल गांधी और बदरुद्दीन अजमल के नेतृत्व का है।

5 साल पहले हमने असम आने पर कहा था कि एक बार पूर्ण बहुमत की सरकार दीजिए, असम से हम आंदोलन व आतंकवाद को समाप्त कर देंगे। 5 साल के बाद असम में न आंदोलन है, न आतंकवाद है। शांति के साथ प्रदेश में विकास हो रहा है। हम जो कहते हैं, वो करते हैं।
गृह मंत्री अमित शाह

चुनाव आते ही भ्रष्टाचार के किस्से सुनाई पड़ते हैं :

गृह मंत्री अमित शाह ने अपनी इस जनसभा में ये भी कहा कि, ''चुनाव आता है तो विपक्ष के नेताओं के भाषण सुनते हैं तो सरकार के भ्रष्टाचार के किस्से सुनाई पड़ते हैं। मगर हमारे सर्बानंद सोनोवाल और हिमंत बिस्वा सरमा ने पांच साल ऐसी सरकार चलाई है कि विपक्ष भी हम पर भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा सकता।''

अमित शाह द्वारा कही गईं बातें-

  • वर्षों से असम में कांग्रेस सरकार थी, लेकिन कभी इन्होंने घुसपैठियों को बाहर निकाला या कभी ये इनको बाहर निकालना चाहते थे क्या? कांग्रेस सरकार कभी भी घुसपैठियों को बाहर नहीं निकालना चाहती थी क्योंकि उनको घुसपैठियों में अपना वोट नजर आता है।

  • हमने कहा था कि, असम को घुसपैठियों से मुक्त करेंगे, वो काम लगभग पूरा हो चुका है। हमने कहा था कि असम को आतंकवाद से मुक्त करेंगे, लगभग 2000 से ज्यादा लोगों ने हथियार डालकर मुख्यधारा में वापसी की है।

  • अतीत में सरकार को असम में पुल बनाने में 30 साल लगे। पीएम मोदी ने सिर्फ पांच साल में छह पुल बनाए। उन्होंने इस क्षेत्र के लिए 46,000 करोड़ रुपये भी प्रदान किए हैं। गुवाहाटी एयरपोर्ट का भी नवीनीकरण किया जा रहा है।

मालूम हो कि, असम में इस बार तीन चरणों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं-

  • पहले चरण का मतदान 27 मार्च को होगा।

  • दूसरे चरण की वोटिंग 1 अप्रैल को होगा।

  • तीसरे चरण का मतदान 6 अप्रैल को होगा।

  • असम विधानसभा चुनाव के परिणाम 2 मई को घोषित किए जाएंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co