गृहमंत्री अमित शाह
गृहमंत्री अमित शाह |Social Media
पॉलिटिक्स

डंके की चोट पर बोले शाह-CAA के खिलाफ विपक्ष कांव-कांव चिल्ला रहा

गृहमंत्री अमित शाह ने लखनऊ में आज CAA के समर्थन में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए अपनी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त कर डंके की चोट पर यह बात कही...

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। उत्‍तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आज अर्थात 21 जनवरी को गृहमंत्री अमित शाह ने नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए अपनी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त की है...

क्‍या बोले अमित शाह?

लखनऊ की धरती से डंके की चोट पर गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि, CAA के खिलाफ विपक्ष पार्टियां 'कांग्रेस, टीएमसी, मायावती, सपा और कम्युनिस्ट्' कांव-कांव चिल्ला रहे हैं। मैंने ही इस बिल को संसद में पेश किया है और मैं चुनौती देता हूं कि, इस बिल का जिसको विरोध करना है करे, CAA वापस नहीं होने वाला है। उन्‍होंने आगे कहा कि, ''मैं वोट बैंक के लोभी नेताओं को कहना चाहता हूं, आप इनके कैंप में जाइए, कलतक जो सौ-सौ हेक्टेयर के मालिक थे, वे आज एक छोटी सी झोपड़ी में परिवार के साथ भीख मांगकर गुजारा कर रहे हैं।''

अमित शाह बोले- CAA के खिलाफ प्रचार किया जा रहा है, इसकी वजह से इस देश के मुसलमानों की नागरिकता चली जाएगी। ममता दीदी, राहुल बाबा, अखिलेश यादव चर्चा करने के लिए सार्वजनिक मंच तलाश लो, हम स्वतंत्र चर्चा करने के लिए तैयार हैं। CAA की कोई भी धारा, मुसलमान छोड़ दीजिए, अल्पसंख्यक छोड़ दीजिए किसी भी व्यक्ति की नागरिकता ले सकती है तो वह मुझे दिखा दीजिए।

CAA पर जन जागरण अभियान :

इस दौरान अमित ने यह बात भी कही कि, CAA के खिलाफ विपक्ष भ्रम फैला रहा है और देश को तोड़ने का काम किया जा रहा है, तो हम इस मुद्दे को लेकर हमारी पार्टी ने जन जागरण अभियान करने का फैसला किया है।

राहुल गांधी पर साधा निशाना :

इस सभा के दौरान गृह मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को निशाने पर लेते हुए कहा कि, राहुल बाबा कान खोल कर सुन लें...उनकी पार्टी की वजह से ही भारत माता के दो टुकड़े धर्म के आधार पर हुए। पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में पिछले कई वर्षों में अल्पसंख्यकों की संख्या में भारी कमी आई है, ऐसे में वो लोग कहां गए। इसी के साथ उन्‍होंने अखिलेश यादव के बारे में भी यह बात कही कि, ''अखिलेश बाबू, ज्यादा ना बोले तो अच्छा हैं, किसी के रटे रटाए वाक्य बोल देते हो, मंच पर आकर CAA पर कुछ शब्द कह सकें तो बताएं। अखिलेश कभी पढ़ा करें, पढ़ने से फायदा होता है।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co