उपराज्यपाल के पत्र पर अरविंद केजरीवाल का जवाब
उपराज्यपाल के पत्र पर अरविंद केजरीवाल का जवाबSocial Media

उपराज्यपाल के पत्र पर अरविंद केजरीवाल का जवाब, कहा-आप दिल्ली की क़ानून व्यवस्था ठीक कीजिए

दिल्ली के उपराज्यपाल वी.के. सक्सेना और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बीच जुबानी जंग खत्म होने का नाम नहीं ले रही है।

नयी दिल्ली, भारत। दिल्ली के उपराज्यपाल वी.के. सक्सेना और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बीच जुबानी जंग खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही है। उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने पहले चिट्ठी लिखकर अपशब्दों को लेकर आलोचना की थी। वहीं इस मामले को लेकर केजरीवाल ने जवाब दिया है।

अरविंद केजरीवाल ने वीके सक्सेना की चिट्ठी का दिया जवाब:

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक चिट्ठी शेयर करते हुए लिखा है, ''आज सुबह LG साहिब का पत्र मिला। उन्हें मेरा जवाब। सर, हमें अपना काम करने दीजिए, आप दिल्ली की क़ानून व्यवस्था ठीक कीजिए ताकि कंझावला जैसा दूसरा केस फिर ना हो।''

उपराज्यपाल की चिट्ठी का जवाब देते हुए केजरीवाल ने लिखा कि, "संविधान ने आपको दिल्ली की कानून व्यवस्था ठीक करने का काम दिया है, आप वो काम कीजिए ना? संविधान ने हमें बाकी काम दिए हैं, हमें अपने काम करने दीजिए। आपको हमारे कामों में विघ्न डालने का कोई अधिकार नहीं है।"

वीके सक्सेना ने केजरीवाल को लिखा था पत्र:

बता दें कि, इससे पहले आज शुक्रवार को एलजी वीके सक्सेना ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखकर उन पर भ्रामक और अपमानजनक टिप्पणी करने और स्तरहीन बातचीत करने का आरोप लगाया है। इसके साथ ही उन्होंने केजरीवाल पर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और आप विधायकों के साथ 16 जनवरी को राज निवास तक मार्च के दौरान राजनीतिक दिखावा करने का भी आरोप लगाया है।

वीके सक्सेना ने आगे कहा कि, "उन्होंने केजरीवाल को एक बैठक के लिए आमंत्रित किया था, लेकिन मुख्यमंत्री अपने सभी विधायकों के साथ उनसे मुलाकात करने के बहाने की आड़ में बैठक में नहीं आए। एलजी ने कहा कि, "इतने शॉर्ट नोटिस और केजरीवाल की ओर से अचानक मांग को देखते हुए एक साथ 70 से 80 लोगों के साथ बैठक करना संभव नहीं होता और न ही इससे कोई ठोस उद्देश्य पूरा होता। दुर्भाग्य से, आपने सुविधाजनक राजनीतिक दिखावा करने के लिए ये कह दिया कि, एलजी ने मुझसे मिलने से इनकार कर दिया'।"

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co