कोरोना से लड़ने मोदी ने लगाई नई तरकीब, नेता ले रहे चुटकी
कोरोना से लड़ने मोदी ने लगाई नई तरकीब, नेता ले रहे चुटकी|Priyanka Sahu - RE
पॉलिटिक्स

कोरोना से लड़ने मोदी ने लगाई नई तरकीब, नेता ले रहे चुटकी

PM मोदी ने देशवासियों से अपील कर इस रविवार रात 9 बजे दीया-टॉर्च-फोन की फ्लैश लाइट जलाने को कहा हैं, लेकिन इसके बाद से कई नेता उनकी इस अपील पर कई तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं, जानें किसने क्या कहा...

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्सप्रेस। वैश्विक महामारी फैला रहे कोरोना वायरस की जंग को हराने के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहले जनता कर्फ्यू फिर 21 दिन का पूरे भारत में लॉकडाउन किया गया। इस दौरान उन्होंने पहले अपने घर के बाहर ताली, थाली-लोटा, शंख जैसी ध्वनि की गूंज की बात कही थी, इसके बाद उन्होंने आज वीडियो संदेश के जरिए आने वाले रविवार को अंधेरे में तेज प्रकाश करने की अपील की है, उनके द्वारा देशवासियों से जब भी कुछ अपील की जाती है तो इससे देश में एक नई सामूहिकता नजर आती है, लेकिन वहीं दूसरी ओर कुछ नेता अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं, साथ ही प्रधानमंत्री मोदी पर तंज कस रहे या कहे चुटकी ले रहे हैं।

किस नेता ने क्या कहा :

अंधेरे में तेज प्रकाश किए जाने को लेकर वार-पलटवार का दौर जारी है एवं इन नेताओं ने अपनी प्रतिक्रिया ट्विटर के जरिए साझा की और पीएम मोदी पर तंज कसा... यहाँ जाने किसने क्या-क्या कहा?

ओवैसी ने उठाए ये सवाल :

एआईएमआईएम के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी ने ट्विटर पर लिखा- यह देश इवेंट मैनेजमेंट कंपनी नहीं है, भारत के लोग इंसान हैं जिनके सपने और उम्मीदें भी हैं...9 मिनट की नौटंकी में हमारी जिंदगी को कम मत करो। इसके साथ ही ओवैसी ने पीएमओ को टैग करते हुए लिखा है कि, हम जानना चाहते थे कि, राज्यों को क्या सहायता मिलेगी और गरीबों को क्या राहत मिलेगी, लेकिन इसके बजाय हमें कुछ नया ड्रामा मिला!

इतना ही नहीं आगे ओवैसी ने अपने अगले ट्वीट में ये भी लिखा- यह ट्यूब-लाइट आइडिया वास्तव में यूनीक था, पूरे भारत में लाखों भूखे, गरीब और बेघर लोग प्रवासियों के रूप में अपने घरों के लिए जा रहे हैं, मैं पूछना चाहता हूं...लाइट कहां है... PMO से कहा कि, मुझे पता है कि आप केवल पॉजिटिव वाइब्स चाहते हैं और कुछ मुद्दों को उठाना नहीं चाहते हैं, लेकिन लाइट कहां है?

छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने किया ट्वीट :

छत्तीसगढ़ कांग्रेस द्वारा ट्वीट किया गया और उसमें लिखा- ‘जली को आग कहते हैं, बुझी को राख कहते हैं, जो महामारी को भी महोत्सव बना दें…उसे नरेंद्र दामोदर दास कहते हैं’।

राजद नेता ने भी किया ट्वीट :

राजद नेता तेजप्रताप यादव ने भी दीया जलाने वाले मसले पर अपने इस अंदाज में ट्वीट किया और कहा कि, "वो लालटेन भी जला सकते हैं, लालटेन RJD का चुनाव चिन्ह है, इस पर अब सुशील मोदी की ओर से जवाब दिया गया।"

सुशील मोदी ने किया पलटवार :

राजद नेता तेज प्रताप यादव के ट्वीट पर सुशील मोदी ने पलटवार करते हुए अपने इस अंदाज में ट्विटर पर लिखा- ‘अब लालटेन का जमाना चला गया, गांव में भी घर-घर बिजली पहुंच गई है. दीया-मोमबत्ती हिंदू-ईसाई पूजा के लिए घर में रखते हैं, मोबाइल तो सबके पास है, इसलिए PM ने लालटेन का ज़िक्र नहीं किया, समझे बबुआ?’

बता दें कि, आज सुबह 9:00 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो संदेश के जरिए देशवासियों से अपील कर कोरोना को हराने का रामबाण इलाज बताया और कहा, रविवार 5 अप्रैल को हमें 130 करोड़ देशवासियों की महाशक्ति का जागरण करना है, सभी को घर की सभी लाइटें बंद करके घर के दरवाजे पर यह बालकनी में खड़े रहकर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती दिए टॉर्च या मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाना है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co