सत्येंद्र जैन के घर ED की छापेमारी में बरामदगी के बाद भाजपा-कांग्रेस के निशाने पर CM केजरीवाल

भाजपा और कांग्रेस की दिल्ली इकाइयों ने मंत्री सत्येंद्र जैन और उनके सहयोगियों के परिसरों से प्रवर्तन निदेशालय द्वारा सोने एवं नकदी की बरामदगी किये जाने को लेकर केजरीवाल सरकार की निंदा कर यह दावा किया।
सत्येंद्र जैन के घर ED की छापेमारी में बरामदगी के बाद भाजपा-कांग्रेस के निशाने पर CM केजरीवाल
भाजपा-कांग्रेस के निशाने पर CM केजरीवालSocial Media

दिल्ली, भारत। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री जेल में है, इस दौरान भाजपा और कांग्रेस के नेता आप सरकार की आलोचनाएं कर रहे हैं और उनके खिलाफ हमलावर का रूख अपनाया हुआ है। दरसअल, ईडी ने मंगलवार को जैन और उनके कथित सहयोगियों के विरूद्ध धनशोधन जांच के तहत उनके परिसरों पर छापेमारी में 2.85 करोड़ रूपये की ‘अव्याख्यायित’ (बिना लेखा-जोखी वाला) नकदी और सोने के 133 सिक्के जब्त किये गये। ऐसे में भाजपा और कांग्रेस की दिल्ली इकाइयों ने मंत्री सत्येंद्र जैन और उनके सहयोगियों के परिसरों से प्रवर्तन निदेशालय द्वारा सोने एवं नकदी की बरामदगी किये जाने को लेकर केजरीवाल सरकार की निंदा कर यह दावा किया कि, आने वाले दिनों में और लोग नपेंगे।

जैन को ‘परम भ्रष्ट’ पुरस्कार दिया जाना चाहिए :

भाजपा का कहना है कि, सत्येंद्र जैन (57) को ‘परम भ्रष्ट’ पुरस्कार दिया जाना चाहिए और प्रवर्तन निदेशालय (ED) को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की भी जांच करनी चाहिए। तो वहीं, एक बयान में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा- आम आदमी पार्टी (AAP) में अशांति दर्शाती है कि, कई अन्य नेताओं के कुकृत्य भी शीघ्र सामने आयेंगे। केजरीवाल कह रहे हैं कि उन्होंने सभी फाइलें देखी हैं और कुछ भी गलत नहीं है। यदि जैन इतने ईमानदार हैं तो उन्हें पद्मश्री दिया जाना चाहिए। लेकिन (ईडी के) छापे के मद्देनजर उन्हें तो परम भ्रष्ट पुरस्कार दिया जाना चाहिए। आप तो ईमानदारी के वादे पर सत्ता में आयी थी लेकिन वह तो भ्रष्टाचार में पूरी तरह डूब गयी।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की भी जांच करनी चाहिए। ‘‘धनशोधन के मामले में ईडी द्वारा जैन को गिरफ्तार किये जाने के बाद केजरीवाल ने उन्हें क्लीनचिट दी थी जिसका मतलब है कि, उन्हें (केजरीवाल को) को मालूम हैं कि क्या क्या कड़ियां हैं।

प्रदेश भाजपा प्रवक्ता हरीश खुराना

इस बीच भाजपा नेता कपिल मिश्रा का भी बयान आया, जिसमें उन्होंने ईडी द्वारा बरामदगी किये जाने के बाद CM केजरीवाल पर निशाना साधते हुए यह आरोप लगाया था कि, "उन्होंने जैन को केजरीवाल को दो करोड़ रूपये देते हुए देखा था। उसके बाद मिश्रा को आम आदमी पार्टी से निकाल दिया गया था। केजरीवाल ने जैन के लिए पद्म विभूषण की मांग की थी।"

तो वहीं, भाजपा के अलावा कांग्रेस के नेता का भी रिएक्शन आया है। इस दौरान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अनिल कुमार ने दावा किया कि, "यह ‘बिल्कुल स्पष्ट’ है कि जैन बड़े भ्रष्टाचार में शामिल हैं। धीरे-धीरे आप से और नाम इस भ्रष्टाचार मामले में सामने आयेंगे। ईडी का सामना करने वाला अगला व्यक्ति सिसोदिया होंगे।" साथ ही प्रदेश कांग्रेस ने कथित शराब ‘घोटाले’ की जांच की मांग करते हुए दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा से शिकायत की है, यदि दिल्ली पुलिस कार्रवाई करने में विफल रहती है तो पार्टी सीबीआई के पास जायेगी।

जानकारी के लिए बताते चलें कि, सत्येंद्र जैन को 30 मई को धनशोधन रोकथाम अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया गया था और वह 9 जून तक ईडी की हिरासत में हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co