BJP ने बताया सीएम कमलनाथ को 1984 दंगों का आरोपी, विधयाको को है डर
BJP ने बताया सीएम कमलनाथ को 1984 दंगों का आरोपी, विधयाको को है डर|Social Media
पॉलिटिक्स

BJP ने बताया सीएम कमलनाथ को 1984 दंगों का आरोपी, विधायकों को है डर

मध्यप्रदेश में आरोप-प्रत्यारोप का दौर तेज होता जा रहा है। सियासी माहौल हर पल एक नया मोड़ ले रहा है। जानिए विधायक क्यों नहीं आ रहे हैं मध्य प्रदेश,

Rishabh Jat

राज एक्सप्रेस। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में वीडी शर्मा ने कहा कि, पूरे मध्य प्रदेश में हुड़दंग गैंग चल रहा है। अब यह बेंगलुरु चला गया है। इस गैंग ने वहां वही किया, जो यहां करता था। कांग्रेस एक तरफ कोरोना वायरस कहकर विधानसभा की कार्यवाही स्थगित करती है। दूसरी तरफ सड़क पर हुड़दंग कर रही है। कहां गया कोरोना वायरस? दिग्विजय सिंह के कारण विधायक बेंगलुरु गए हैं। मप्र में 84 के दंगों के आरोपी सीएम हैं। वे लोग कुचल देंगे, इसलिए बेंगलुरु से विधायक भोपाल नहीं आना चाहते हैं।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा की मप्र में माफिया राज चल रहा है। पिछले 15 महीने में माफिया राज बढ़ गया है। शराब माफिया, ट्रांसफर माफिया हावी हैं। शराब की नीतियों को सरकार के मंत्री, अफसर नहीं, माफिया बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि दिग्विजय सिंह कमलनाथ को डरा-डरा कर काम करवा रहे हैं। अब सरकार बचाने की बात कर रहे हैं। आज अल्पमत की सरकार है। कहां है कांग्रेस के पास बहुमत? भाजपा के 106 विधायकों ने राजभवन में परेड की। राज्यपाल ने विधायकों से बातचीत भी की। कांग्रेस सरकार का बहुमत चला गया तो जोड़-तोड़, लालच, प्रलोभन, दबाव डाला जा रहा है। बेंगलुरु में ठहरे विधायकों के परिवारों पर दबाव डाला जा रहा है।

शिवराज सिंह चौहान ने आगे कहा कि, बेंगलुरु में ठहरे विधायक यहां आते हैं तो उनकी जान को खतरा है। सरकार ने रास्ते में रोकने की तैयारी कर रखी थी। सरकार विधानसभा तक नहीं पहुंचने देना चाहती है। भोपाल में सिंधिया पर हमला हो सकता है, तो विधायकों के सुरक्षित होने पर कैसे भरोसा कर लिया जाए। सरकार में नैतिकता है तो फ्लोर टेस्ट करा दे। आखिर क्यों नहीं बेंगलुरु से आने वाले विधायकों को सीआरपीएफ की सुरक्षा दी जा रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co