भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने जेडीयू-आरजेडी पर साधे जोरदार निशाने

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने जेडीयू और आरजेडी को निशाने पर लेते हुए कहा- पूरे बिहार में चोरी, स्नैचिंग, हत्या, दुष्कर्म, लूट का तांडव मचा हुआ है। बिहार में जंगल राज दोबार आ गया है।
संबित पात्रा ने जेडीयू-आरजेडी पर साधे जोरदार निशाने
संबित पात्रा ने जेडीयू-आरजेडी पर साधे जोरदार निशानेSocial Media

दिल्ली, भारत। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने आज शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बिहार की नई सरकार पर जोरदार निशाने साधे।

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने जेडीयू और आरजेडी को निशाने पर लेते हुए कहा- गठबंधन बनने के पश्चात JDU और RJD के बीच जिस प्रकार की गतिविधियां बिहार में हुई हैं, उससे आपको अवगत कराता हूं। 10 अगस्त को बिहार में एक पत्रकार की गोलीमार कर हत्या कर दी गई। 11 अगस्त को एक और पत्रकार की हत्या कर दी गई और बेतिया के एक पुजारी की गला रेत कर निर्मम हत्या कर दी गई। 11 अगस्त को ही पटना के एक कार शोरूम में बहुत बड़ी लूट हुई और इसी दिन छपरा में जहरीली शराब के सेवन के कारण 6 लोग मृत्यु को प्राप्त हुए। छपरा में इससे पहले 13 लोगों की जहरीली शराब के कारण मुत्यु हुई थी और आदरणीय नीतीश कुमार जी के गृह क्षेत्र नालंदा में 10 लोगों की मौत हुई थी।

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए काम करना 'लाभ' के दायरे में आता है। मुफ्त का मतलब अल्पकालिक लाभ है। इससे सिर्फ अरविंद केजरीवाल और उनकी पार्टी को फायदा होता है। अरविंद केजरीवाल ने एक योजना के लिए लगभग 19.50 करोड़ रुपये खर्च किए, जिसमें दिल्ली सरकार ने केवल दो लोगों को ऋण दिया, जो कि केवल 20 लाख रुपये था।

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा

  • बिहार में जिस प्रकार से तेजी से जो अव्यवस्था फैल रही है उसका एक संस्मरण आपके सामने रखूंगा कि जिला पश्चिम चंपारण में 12 वर्षीय किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म होती है, मुजफ्फरपुर में एक व्यवसायी के घर में दिन-दहाड़े लूट होती है, आभूषण दुकानों में चोरी होती है।

  • पूरे बिहार में चोरी, स्नैचिंग, हत्या, दुष्कर्म, लूट का तांडव मचा हुआ है। बिहार में जंगल राज दोबार आ गया है।

  • तेजस्वी यादव ने 2020 में कहा था कि हम आएंगे तो 10 लाख नौकरी देंगे।

    जब उनसे पूछा गया कि अब आप आ गए हैं तो 10 लाख नौकरी का क्या होगा? तो तेजस्वी यादव कहते हुए नजर आते हैं कि देखिए अभी तो हम मुख्यमंत्री नहीं बने हैं, मैंने कहा था कि जब हम मुख्यमंत्री बनेंगे तब नौकरी देंगे।

  • बड़े दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि ये मैं की कहानी है, मतलब मैं बनूंगा तब होगा, हम से कुछ नहीं होगा। इसी परिवारवाद के खिलाफ भाजपा सतत लड़ती रही है और आगे भी लड़ती रहेगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co