ASP-SP गठबंधन पर लगा ब्रेक, चंद्रशेखर बोले- अखिलेश को दलितों की जरूरत नहीं
ASP-SP गठबंधन पर लगा ब्रेक Social Media

ASP-SP गठबंधन पर लगा ब्रेक, चंद्रशेखर बोले- अखिलेश को दलितों की जरूरत नहीं

उत्‍तर प्रदेश के लखनऊ में ASP के संस्थापक अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने प्रेस कॉन्फ्रेन्स को संबोधित कर कहा- समाजवादी पार्टी के साथ उनकी पार्टी का कोई गठबंधन नहीं होगा। साथ ही अखिलेश पर लगाए ये आरोप...

उत्तर प्रदेश, भारत। उत्तर प्रदेश में चुनावी तापिश के बीच राजनीतिक पार्टियों के गठबंधन पर कयासबाजी का दौर जारी है। इस बीच अब UP विधान सभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी (SP) और आजाद समाज पार्टी (ASP) के गठबंधन को लेकर बड़ी खबर सामने आई है कि, इन दोनों पार्टियों का गठबंधन नहीं होगा। इस बारे में आज शनिवार को लखनऊ में ASP के संस्थापक अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने एक प्रेस कॉन्फ्रेन्स को संबोधित कर जानकारी दी है।

सपा से उनकी पार्टी का कोई गठबंधन नहीं :

आजाद समाज पार्टी (ASP) के संस्थापक अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने प्रेस कॉन्फ्रेन्स में कहा- उत्तर प्रदेश के विधान सभा चुनावों (UP Assembly Elections 2022) में समाजवादी पार्टी के साथ उनकी पार्टी का कोई गठबंधन नहीं होगा। साथ ही सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर जोरदार हमला बोलते हुए यह आरोप भी लगाया है कि, ''उन्होंने बहुजन समाज का अपमान किया है। अखिलेश दलितों को गठबंधन में शामिल नहीं करना चाहते हैं, बल्कि सिर्फ दलितों का वोट बैंक चाहते हैं। अखिलेश यादव सामाजिक न्याय का मतलब नहीं समझते हैं।''

इतना ही नहीं बल्कि चंद्रशेखर आजाद ने कल की मुलाकात के बारे में भी यह बात कहीं कि, “कल हमें अखिलेश जी ने अपमानित किया, कल बहुजन समाज को अखिलेश जी ने असम्मानित किया।"

मैं चाहता था कि, बीजेपी को सत्ता में दोबारा आने से रोकने के लिए एक बड़ा गठबंधन हो, लेकिन हमारे अधिकारों के सवाल पर अखिलेश यादव चुप हैं। अब हम अपने दम पर लड़ेंगे, हमारी कोशिश थी कि बिखरा विपक्ष एकजुट हो जाए। मैंने सबसे पहले मायावती के साथ गठबंधन का प्रयास किया था।

ASP के संस्थापक अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद

चंद्रशेखर आजाद ने बताया- मेरी अखिलेश यादव से पिछले 6 महीनों में काफी मुलाकातें हुईं हैं। इस बीच सकारात्मक बातें भी हुई, लेकिन अंत समय में मुझे लगा कि, अखिलेश यादव को दलितों की ज़रूरत नहीं है। वह इस गठबंधन में दलित नेताओं को नहीं चाहते। वह चाहते हैं कि दलित उनको वोट करें।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.