CM Uddhav Thackeray Statement
CM Uddhav Thackeray Statement|Social Media
पॉलिटिक्स

CAA-NRC-NPR पर CM उद्धव ठाकरे का बड़ा बयान, BJP पर साधा निशाना

शिवसेना के मुखपत्र सामना को इंटरव्यू में CM उद्धव ठाकरे ने CAA-NRC और NPR को लेकर बड़ा बयान देते हुुुए कहा- वह CAA के खिलाफ नहीं, लेकिन NRC और NPR का विरोध करेंगे।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। देश में CAA और NRC को लेकर हो रहे विरोध पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का बयान सामने आया है, जिसमें उनका कहना है कि, वह नागरिकता संशोधित कानून के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन NRC और NPR का विरोध करेंगे।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शिवसेना के मुखपत्र सामना में इंटरव्यू के दौरान यह बात कही है कि, ''नागरिकता संशोधन कानून के तहत किसी को भी देश से बाहर नहीं निकाला जा सकता। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा- वह महाराष्ट्र में NRC लागू नहीं होने देंगे, क्योंकि इससे हिंदुओं को भी अपनी नागरिकता साबित करने में दिक्कत होगी, इसलिए मैं NRC को यहां नहीं आने दूंगा।''

भाजपा पर साधा निशाना :

भाजपा का साथ छोड़कर कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के साथ मिलकर सरकार बनाने को लेकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि, महाराष्ट्र की राजनीति के भूकंप का झटका दिल्ली तक लगा, देश को नई दिशा मिली। परदे के पीछे और सामने निश्चित तौर पर क्या हुआ?

इस पर CM उद्धव ठाकरे ने कहा- मैंने क्या मांगा था भाजपा से? जो तय था वही न!मैंने भाजपा से चांद-तारे नहीं मांगे थे, यदि वह मेरी बात मान जाते तो आज मैं नहीं बल्कि कोई और शिवसैनिक मुख्यमंत्री होता, लेकिन ये उस दिशा में उठाया गया पहला कदम है, किसी को टिप्पणी करनी है तो खुशी से करे। मैं अब परवाह नहीं करता।''

शिवसेना के मुखपत्र सामना इंटरव्यू में उद्धव ठाकरे से जब पूछा कि, आपने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली यह बड़ा झटका था, ऐसा नहीं लगता क्या?

इसपर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा- मुख्यमंत्री पद को स्वीकारना न ही मेरे लिए झटका था और न ही मेरा सपना था। अत्यंत ईमानदारी से मैं ये कबूल करता हूं कि मैं शिवसेना प्रमुख का एक स्वप्न- फिर उसमें ‘सामना’ का योगदान होगा, शिवसेना का सफर होगा और मुझ तक सीमित कहें तो मैं मतलब स्वयं उद्धव द्वारा उनके पिता मतलब बालासाहेब को दिया गया वचन!

इसी के आगे उन्‍होंने यह भी कहा- इस वचनपूर्ति के लिए किसी भी स्तर तक जाने की मेरी तैयारी थी। उससे भी आगे जाकर एक बात मैं स्पष्ट करता हूं कि, मेरा CM पद वचनपूर्ति नहीं बल्कि वचनपूर्ति की दिशा में उठाया गया एक कदम है। उस कदम को उस दिशा की ओर बढ़ाने के लिए मैंने मन से किसी भी स्तर तक जाने का तय किया था। अपने पिता को दिए गए वचन को पूरा करना ही है और मैं वो करूंगा ही।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co