संजय राउत की गिरफ्तारी पर बोले खड़गे- ये सब उत्पीड़न है और विपक्ष को खत्म करने की बातें चल रही हैं

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे का बयान आया, इस दौरान उन्होंने संजय राउत की गिरफ्तारी को लेकर कहा- वो संसद को विपक्ष मुक्त चाहते हैं, इसलिए वो ऐसा कर रहे हैं।
संजय राउत की गिरफ्तारी पर बोले खड़गे
संजय राउत की गिरफ्तारी पर बोले खड़गेSocial Media

दिल्ली, भारत। शिवसेना नेता संजय राउत की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही है। जमीन घोटाले के मामले में शिवसेना नेता संजय राउत की गिरफ्तारी हो चुकी है इस बीच अब उनके खिलाफ FIR दर्ज हुई। तो वहीं, संजय राउत की गिरफ्तारी को लेकर कई नेताओं का समर्थन मिल रहा है। अब संजय राउत की गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे का बयान आया है।

संजय राउत कानूनी तौर पर लड़ेंगे :

दिल्ली में शिवसेना नेता संजय राउत की गिरफ्तारी पर कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा- वो संसद को विपक्ष मुक्त चाहते हैं, इसलिए वो ऐसा कर रहे हैं, लेकिन संजय राउत कानूनी तौर पर लड़ेंगे और उन्हें जो कुछ कहना है वो कहेंगे।

ये सरकार विपक्ष को दबाना चाहती है, अगर कोई प्रॉपर्टी का मामला है तो उसके लिए कानून है उसके तहत एक्शन लीजिए न कि उसके घर जाकर 6 घंटे पूछताछ करना ये सब उत्पीड़न है और विपक्ष को खत्म करने की बातें चल रही हैं।

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे

बता दें कि, संजय राउत के खिलाफ जो शिकायत दर्ज हुई वो महिला गवाह को धमकाने के आरोप में दर्ज की गई है। इस बारे में पुलिस के एक अधिकारी ने बीते रविवार को बताया कि, ''गवाह स्वप्ना पाटकर ने वकोला पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने बताया कि पाटकर ने हाल में पुलिस का रुख करते हुए दावा किया था कि उसे टाइप किए गए एक पत्र में दुष्कर्म और हत्या की धमकी दी गई थी। यह पत्र 15 जुलाई को उसे दिए एक अखबार में रखा हुआ था।'' मिली जानकारी के अनुसार, "कथित तौर पर स्वप्ना पाटकर को धमकाने के लिए राउत के खिलाफ धारा 504, 506 और 509 के तहत वाकोला पुलिस स्टेशन में FIR दर्ज की गई है। पाटकर पात्रा चॉल जमीन घोटाला मामले में गवाह हैं।"

कल रविवार को संजय राउत के घर पात्रा चॉल भूमि घोटाला मामले में केंद्रीय एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय (ED) पहुंची थी और आवास पहुंचने के दौरान ED ने संजय राउत के घर की तलाशी और पूछताछ की। इस दौरान छापेमारी के समय संयज राउत ने सफाई देते हुए कहा- एक जिम्मेदार सांसद के रूप में उन्हें संसद सत्र में भाग लेना है और इसलिए वह 20 और 27 तारीख को ईडी के सामने पेश नहीं हुए। उन्होंने 7 अगस्त तक का समय मांगा है और अगर उस दिन तलब किया जाता है तो वह ईडी के अधिकारियों के सामने पेश होंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co