पंजाब की कांग्रेस पार्टी में घमासान के बीच हरीश रावत ने दिया बड़ा बयान
पंजाब की कांग्रेस पार्टी में घमासान के बीच हरीश रावत ने दिया बड़ा बयानSocial Media

पंजाब की कांग्रेस पार्टी में घमासान के बीच हरीश रावत ने दिया बड़ा बयान

पंजाब की कांग्रेस पार्टी में घमासान के बीच हरीश रावत ने एक बड़ा बयान साझा किया है। जिससे कई संकेत मिल रहे हैं। उन्होंने यह संकेत पंजाब के मुख्यमंत्री और नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर दिए हैं।

पंजाब, भारत। राजनीति एक ऐसी चीज है जहां उथल पुथल होना बहुत आम बात है। फिलहाल, यह उथल पुथल पंजाब में कांग्रेस पार्टी में देखने को मिल रही है। यहां, चल रहे इस घमासान के बीच हरीश रावत ने एक बड़ा बयान साझा किया है। जिससे कई संकेत मिल रहे है। उन्होंने यह संकेत पंजाब के मुख्यमंत्री और नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर दिए हैं।

हरीश रावत ने दिए संकेत :

दरअसल, पिछले कुछ समय से पंजाब में कांग्रेस पार्टी में काफी नोकझोंक देखने को मिल रही है। वहीं, इसी बीच हरीश रावत ने एक बड़ा बयान देते हुए इस आपसी मतभेद को खत्म करने का फॉर्मूला ढूंढ निकालने के संकेत दिए हैं। उन्होंने बयान से समझना आसान है कि, पंजाब में 'कैप्टन अमरिंदर सिंह' ही यहां के मुख्यमंत्री बने रहेंगे। जबकि कुछ समय से नाराजगी जाहिर कर रहे नवजोत सिंह सिद्धू को कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया जाएगा। साथ ही दो वक्रिंग प्रेसिडेंट भी बनाए जाएंगे। जो कि, हिंदू और दलित समुदाय के होंगे। इस मामले में जल्द ही आधिकारिक घोषणा भी की जाएगी।

विधानसभा चुनाव 2022 के लिए शामिल हो सकते हैं नए लोग :

बताते चलें, वर्तमान समय में पंजाब में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ हैं। हालांकि, पहले ऐसा माना जा रहा था कि, कैप्टन और सिद्धू के बीच चल रहे इस घमासान में सुनील जाखड़ को अपनी कुर्सी छोड़ना पड़ सकती है। इसके अलावा अब ऐसी उम्मीद की जा रही है कि, पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनाव 2022 के लिए आने वाले दिनों में कैप्टन अमरिंदर सिंह की कैबिनेट में भी कुछ नए लोग जुड़ सकते हैं। इसके अलावा पार्टी में दो वर्किंग प्रेसिडेंट बनाने के पीछे भी वोट की राजनीति हो सकती है। यहां, घमासान का मुद्दा यह बन गया है कि, पंजाब में पार्टी की मुख्य जिम्मेदारी किसी हिंदू नेता को दी जाए या फिर सिख नेता को।

बुधवार को हुई बैठक :

पंजाब इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस पार्टी के मुख्य कर्ता धर्ता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी द्वारा बुधवार को बैठक ली गई थी। इस मीटिंग के दौरान इस मामले में समाधान निकालने की पूरी संभावना जताई गई है। बता दें, इस बैठक में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और प्रदेश प्रभारी हरीश रावत शामिल हुए और सभी ने पंजाब कांग्रेस पार्टी के चल रहे कुछ अहम मुद्दों पर बातचीत की।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co