Raj Express
www.rajexpress.co
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर|Social Media
पॉलिटिक्स

हरियाणा: जाटलैंड में आसान नहीं बीजेपी की राह

हरियाणा में जाटलैंड इलाके में आनी वाली सीटों पर विपक्षी चक्रव्यूह को भेदना बीजेपी के लिए बड़ी चुनौती बनी हुई है, जानिए क्या है कारण-

Rishabh Jat

राज एक्सप्रेस। हरियाणा की सियासत में करीब 30 फीसदी जाट समुदाय किसी भी पार्टी को चुनाव जिताने और किसी भी सरकार को गिराने की ताकत रखते हैं। यही वजह है कि हरियाणा की राजनीतिक धुरी लंबे समय तक जाट समुदाय के इर्द-गिर्द ही घूमती रही है। विधानसभा चुनाव के लिए कुछ दिन ही बाकी हैं और हरियाणा में जाटलैंड इलाके में आनी वाली सीटों पर विपक्षी चक्रव्यूह को भेदना बीजेपी के लिए बड़ी चुनौती बनी हुई है।

किस जगह को कहते है जाटलैंड

हरियाणा में रोहतक, सोनीपत, पानीपत, जींद, कैथल, सिरसा, झज्जर, फतेहाबाद, हिसार और भिवानी जिले की करीब 30 विधानसभा सीटों पर जाटों का अच्छा प्रभाव है। इसी के चलते इस इलाके को जाटलैंड कहा जाता है। यहां की सीटों पर जाट समुदाय हार-जीत का फैसला करते हैं। जाटलैंड की इन 30 सीटों पर बीजेपी के बड़े दिग्गजों को भी कड़ी चुनौती मिल रही है, जिसके चलते पार्टी के जाट नेता अपने इलाके से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं।