मुझे कब-क्या बोलना है, किसी की सलाह की जरूरत नहीं : रावत
मुझे कब-क्या बोलना है, किसी की सलाह की जरूरत नहीं : रावतSocial Media

मुझे कब-क्या बोलना है, किसी की सलाह की जरूरत नहीं : रावत

श्री रावत ने कहा कि उन्हें कहां, कब और क्या बोलना है यह उन्हें भलीभांति समझ आता है इसलिए सभी को शांत होना चाहिए और किसी को धैर्य नहीं खोना चाहिए।

नई दिल्ली। कांग्रेस के पंजाब के प्रभारी महासचिव हरीश रावत के कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में 2022 का चुनाव लड़ने संबंधी बयान पर प्रदेश कांग्रेस महासचिव परगट सिंह ने सवाल उठाया है जिस पर श्री रावत ने कहा कि उन्हें कब और क्या बोलना है इस बारे में किसी सलाह की जरूरत नहीं है।

श्री रावत ने कहा कि उन्हें कहां, कब और क्या बोलना है यह उन्हें भलीभांति समझ आता है इसलिए सभी को शांत होना चाहिए और किसी को धैर्य नहीं खोना चाहिए। यह पूछने पर कि सिद्धू खेमे के परगट सिंह ने 2022 का चुनाव कैप्टन के नेतृत्व में लड़ने संबंधी उनके बयान पर आपत्ति जताई है तो श्री रावत ने कहा कि कांग्रेस के पास सोनिया गांधी और राहुल गांधी जैसे राष्ट्रीय चेहरे हैं। उनका कहना था कि स्थानीय स्तर पर पार्टी के पास कैप्टन अमरिंदर सिंह, नवजोत सिंह सिद्धू और यहां तक कि परगट सिंह जैसे नेताओं के चेहरे हैं।

पंजाब की राजनीति में नया मोड़ उस समय आया जब पार्टी के प्रदेश महासचिव परगट सिंह ने कहा कि कुछ माह पहले आला कमान द्वारा गठित तीन सदस्यी खडगे समिति की पंजाब यात्रा के दौरान तय हुआ था कि 2022 का चुनाव सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में लड़ा जाएगा तो श्री रावत किस हैसियत से कहते हैं कि पंजाब का चुनाव कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में लड़ा जाएगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co