असम के पटाचारुची में JP नड्डा का चुनावी प्रचार-राहुल को बताया राजनीतिक सैलानी
असम के पटाचारुची में JP नड्डा का चुनावी प्रचार-राहुल को बताया राजनीतिक सैलानीTwitter

असम के पटाचारुची में JP नड्डा का चुनावी प्रचार-राहुल को बताया राजनीतिक सैलानी

असम के पटाचारुची में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने जनसभा को संबोधित कर कहा- कुछ राजनीतिक सैलानी होते हैं। ये राजनीति में चुनाव के वक्त घूमने आते हैं।

असम, भारत। आज इन तीन चुनावी राज्‍यों में बंगाल, असम, और तमिलनाडु में भाजपा नेताओं का जोरदार चुनावी प्रचार-प्रसार हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तमिलनाडु में, देश के गृह मंत्री अमित शह बंगाल में और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा आज असम में है। इस दौरान जेपी नड्डा ने असम के पटाचारुची में जनसभा को संबोधित किया।

कुछ राजनीतिक सैलानी चुनाव के वक्त घूमने आते हैं :

पटाचारुची में जनसभा को संबोधित करते हुुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि, ''आज कांग्रेस पार्टी मानसिक दिवालियेपन और अवसरवादी राजनीति में घिर चुकी है। कांग्रेस का वैचारिक पृष्ठभूमि पर मानसिक दिवालियापन हो चुका है। कुछ राजनीतिक कार्यकर्ता या नेता होते हैं, और कुछ राजनीतिक सैलानी होते हैं। ये राजनीति में चुनाव के वक्त घूमने आते हैं। राहुल गांधी भी राजनीतिक सैलानी की तरह आए और चाय बागान का फोटो लगाया, लेकिन वो चाय बागान ताइवान और श्रीलंका के थे।''

चुनाव में बहुत कुछ देखने को मिल रहा :

जनसभा में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा- आजकल चुनाव में बहुत कुछ देखने को मिल रहा है। कोई मंदिर जा रहा है, पिछले 50 साल में मंदिर नहीं गए, अब जा रहे हैं। कोई चंडीपाठ कर रहा है, बंगाल में ममता दीदी को पहले कभी जरूरत नहीं पड़ी, लेकिन अब चंडीपाठ कर रही हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 1,000 करोड़ रुपये चाय बागानों के लिए दिए हैं। ये धनराशि बच्चों की शिक्षा और महिलाओं के स्वास्थ्य पर खर्च होगा। चाय बागान पर जो पक्की सड़कें हैं, वो भी असम की भाजपा सरकार ने बनाई है।
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा

जेपी नड्डा के संबोधन की प्रमुख बातें-

  • असम के लिए हमारे 10 संकल्प हैं। बाढ़ के प्रकोप से हम यहां के लोगों को निजात दिलाएंगे।

  • अरुण उदय के तहत अब हम 3,000 रुपये 30 लाख बहनों को देंगे।

  • 2.5 लाख रुपये नामघरों के लिए दिए जाएंगे। बेटियों की शिक्षा मुफ्त होगी।

  • 8वीं कक्षा के बाद बेटियों को साइकिल दी जाएगी।

  • पिछले 50 साल में बोडो समस्या के चलते हजारों लोग हताहत हुए, पुलिस के हजारों लोग मारे गए, लेकिन मोदी जी की इच्छाशक्ति और अमित शाह जी की रणनीति ने बोडो एकॉर्ड कराकर जहां असम की अस्मिता को सुरक्षित रखा, वहीं बोडो समस्या को हमेशा के लिए सुलझा दिया गया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co