पंजाब कांग्रेस के कई विधायक मेरे संपर्क में : अमरिंदर सिंह
पंजाब कांग्रेस के कई विधायक मेरे संपर्क में : अमरिंदर सिंहSocial Media

पंजाब कांग्रेस के कई विधायक मेरे संपर्क में : अमरिंदर सिंह

कैप्टन सिंह ने कहा कि वो चुनाव आयोग से नाम और चिन्ह मिलने के बाद नई पार्टी की घोषणा करेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कई लोग उनके संपर्क में हैं तथा वे समय आने पर खुलकर सामने आएंगे।

चंडीगढ़। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपनी नई पार्टी बनाने का ऐलान करते हुये कहा है कि नयी पार्टी की प्रक्रिया पूरी होते और चुनाव आयोग से नाम तथा चुनाव चिन्ह मिलते ही पार्टी की घोषणा करेंगे।

मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद आज पहली बार कैप्टन सिंह पत्रकारों से रूबरू हुए और अपनी साढ़े चार की उपलब्धियां और प्रदेश के विकास के लिये कुछ नये कदम उठाने से लेकर जो कुछ उन्होंने अब तक किया, उस बारे में अपना पक्ष रखने के लिये दस्तावेजों का चिठ्ठा भी साथ लेकर आये। उन्होंने सीमा पार से आये ड्रोनों से लेकर हथियारों, नशों का ब्यौरा दिया।

कैप्टन सिंह ने कहा कि वो चुनाव आयोग से नाम और चिन्ह मिलने के बाद नई पार्टी की घोषणा करेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कई लोग उनके संपर्क में हैं तथा वे समय आने पर खुलकर सामने आएंगे। हम इस बारे में पहले से किसी के नाम का खुलासा नहीं करेेंगे और समय पर सब कुछ लोगों के सामने आ जाएगा। उनके समर्थकों को परेशान किया जा रहा है लेकिन ऐसा करने से वे न तो मेरे समर्थकों को मुझसे दूर कर सकते हैं और न ही लोगों के दिल जीत सकते। हमारी जीत तय है। समझ में नहीं आता कि राहुल गांधी को पंजाब कांग्रेस के विधायकों से बैठकें करने की जरूरत क्यों पड़ी।

कांग्रेस से इस्तीफा देने के बारे में पूछे गये एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि, उन्होंने अभी तक पार्टी से इस्तीफा नहीं दिया है । जिस पार्टी में 52 साल गुजारे हैं उसमें क्या दस दिन और नहीं रह सकते। अठ्ठारह सूत्री एजेंडा के बारे में उन्होंने कहा कि यह 2017 के चुनाव घोषणापत्र का ही हिस्सा है। खडगे कमेटी ने साफ बताया कि 92 प्रतिशत वादे पूरे कर दिये गये हैं।

नवजोत सिद्धू तथा सुखजिंदर रंधावा के बारे में कैप्टन सिंह ने कहा कि ये अच्छी राजनीति कर रहे हैं जो किसी को शोभा नहीं देता। हम चुनाव लड़ेंगे और सिद्धू को हरायेंगे चाहे वो जहां से भी चुनाव लड़ें।

उन्होंने भाजपा के साथ तालमेल को लेकर कहा कि वो सीटों पर तालमेल की बात कर रहे हैं लेकिन भाजपा से इस मुद्दे पर कभी बात नहीं की। अकाली दल के साथ सीटों के बंटवारे को लेकर उनका कोई इरादा नहीं है लेकिन अकाली से अलग हुये गुटों के साथ चुनावी तालमेल के हक में हैं। यदि सुखदेव सिंह ढींढसा अकाली दल (बादल) को टक्कर देना ही चाहते हैं तो हमें उन ताकतों पर भी ध्यान केन्द्रित करना होगा। कांग्रेस ,आप पार्टी और अकाली दल को टक्कर देने के लिये हमें मिलकर लड़ना होगा।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि बेअदबी के मामले अदालत में चल रहे हैं तथा इसमें सरकार कुछ नहीं कर सकती। कानून के हिसाब के काम होते हैं। बरगाड़ी मामले में जांच चल रही है तथा 19 पुलिस अधिकारी और 21 नागरिकों के खिलाफ मामले दर्ज हैं। अदालती मामलों में समय लगता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co