UP बस बिल विवाद: मायावती का BJP को समर्थन-कांग्रेस को सुनाई खरी-खोटी

BSP मायावती ने भाजपा का समर्थन कर राजस्थान कांग्रेस पर घिनौनी राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा-यूपी सरकार से 36.36 लाख देने की मांग की है, वह उसकी कंगाली और अमानवीयता को प्रदर्शित करता है।
UP बस बिल विवाद: मायावती का BJP को समर्थन-कांग्रेस को सुनाई खरी-खोटी
मायावती का BJP को समर्थन-कांग्रेस को सुनाई खरी-खोटीSocial Media

राज एक्‍सप्रेस। उत्तर प्रदेश में बस विवाद के मुद्दे को लेकर अभी तक कांग्रेस और उत्‍तर प्रदेश सरकार के बीच तेजी से सियासी जंग चल रही थी, जो अभी सिर्फ थोड़ी कम ही हुई थी कि, इसी बीच अब राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने यूपी सरकार को 36 लाख रूपये का बसों का बिल थमाकर नया विवाद खड़ा कर दिया। बस विवाद के बाद अब बस बिल के मामले पर सियासत तेज हो चली है।

मायावती का भाजपा को समर्थन :

बस बिल के मामले पर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती द्वारा खुलकर भारतीय जनता पार्टी का समर्थन किया और कांग्रेस को जमकर खरी-खोटी सुनाई, साथ ही राजस्थान पर घिनौनी राजनीति करने का आरोप भी लगाया है। इतना ही नहीं सुश्री मायावती ने इस दौरान अपने ट्विटर अकांउट से दो ट्वीट भी साझा किए, जिसमें उन्‍होंने ये बाते कहीं-

मायावती का पहला ट्वीट :

बसपा अध्‍यक्ष मायावती ने अपने पहले ट्वीट में लिखा- राजस्थान की कांग्रेसी सरकार द्वारा कोटा से करीब 12000 युवा-युवतियों को वापस उनके घर भेजने पर हुए खर्च के रूप में यूपी सरकार से 36.36 लाख रुपये और देने की जो मांग की है वह उसकी कंगाली और अमानवीयता को प्रदर्शित करता है। दो पड़ोसी राज्यों के बीच ऐसी घिनौनी राजनीति अति-दुःखद है।

मायावती का दूसरा ट्वीट :

इसके अलावा मायावती ने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा- कांग्रेसी राजस्थान सरकार एक तरफ कोटा से यूपी के छात्रों को अपनी कुछ बसों से वापस भेजने के लिए मनमाना किराया वसूल रही है, तो दूसरी तरफ अब प्रवासी मजदूरों को यूपी में उनके घर भेजने के लिए बसों की बात करके जो राजनीतिक खेल खेल रही है यह कितना उचित और कितना मानवीय?

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co