जहां पैसे का अंबार निकल रहा है, वहां मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जी एकदम चुप बैठी हैं: मीनाक्षी लेखी

केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने पार्टी मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर साधा निशाना।
मीनाक्षी लेखी
मीनाक्षी लेखीSocial Media

दिल्‍ली, भारत। पश्चिम बंगाल के मंत्री पार्थ चटर्जी विवाद को लेकर आज गुरूवार को नई दिल्ली में केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने पार्टी मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया और बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा है।

3M के अलावा उनके पास कहने को कुछ नहीं है :

इस दौरान केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने अपने संबोधन में कहा- आज आप सबके माध्यम से मैं देश की जनता को याद दिलाना चाहती हूं कि जो लोग मां, माटी, मानुष का नारा देते थे। आज वो केवल एक ही आवाज निकाल रहे हैं Money, Money, Money. इस 3M के अलावा उनके पास कहने को कुछ नहीं है।

आप पार्थ चटर्जी के दस्तावेज देखें, चाहे आप अर्पिता की आवाजें सुनें, चाहे इनके मंत्रियों के यहां जो छापे पड़े उनकी कहानी देखें, तो एक ही बात समझ में आती है कि करीब 50 करोड़ रुपये अर्पिता के यहां से बरामद हुए और 9 किलो के आसपास सोना मिला है, अनगिनत संपत्ति के दस्तावेज मिलें हैं।

केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी

  • पार्थ चटर्जी की एक और जानकार मोनालिसा दास जो 2014 में एक यूनिवर्सिटी में भर्ती हुई, आज वो वहां प्रोफेसर हैं और बंगाली की हेड ऑफ डिपार्टमेंट हैं। उनके नाम पर 10 फ्लैट के कागज हैं।

  • हैरानी की बात ये है कि जहां पैसे का अंबार निकल रहा है, वहां मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जी एकदम चुप बैठी हैं। नारदा, शारदा चिटफंड, कोयला एवं आज जो शिक्षक भर्ती में घोटाले सामने आए हैं, ED को इसकी अच्छी तरह से जांच करनी चाहिए।

  • अर्पिता मुखर्जी के 2 बयान आये हैं - उन्होंने कहा है कि पार्थ चटर्जी ने उनके घर को ATM बना दिया था। दूसरा- अर्पिता ने कहा है कि नीचे से ऊपर तक पैसा जाता था। नीचे वाले कौन है ये तो समझ में आ गया, लेकिन ऊपर वाले कौन है, ये भी सामने आना अभी बाकी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co