महाराष्ट्र सरकार आवश्यक प्रक्रियाओं को समझकर लेगी उचित फैसला: नवाब मलिक
महाराष्ट्र सरकार आवश्यक प्रक्रियाओं को समझकर लेगी उचित फैसला: नवाब मलिकSocial Media

महाराष्ट्र सरकार आवश्यक प्रक्रियाओं को समझकर लेगी उचित फैसला: नवाब मलिक

राकांपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा- उनकी सरकार OBC को राजनीतिक आरक्षण देने के संबंध में अदालत के आदेश का अध्ययन कर सभी आवश्यक प्रक्रियाओं को समझकर उचित फैसला लेगी।

राज एक्सप्रेस। महाराष्ट्र में आरक्षण की लड़ाई अब और भी ज्यादा मुश्किल में होती जा रही है। इस बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री नवाब मलिक का बयान सामने आया है।

सभी आवश्यक प्रक्रियाओं को समझकर उचित फैसला :

इस संबंध में NCP के राष्ट्रीय प्रवक्ता नवाब मलिक की ओर से आज सोमवार को यह कहा गया है कि, "उनकी सरकार अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) को राजनीतिक आरक्षण देने के संबंध में अदालत के आदेश का अध्ययन कर सभी आवश्यक प्रक्रियाओं को समझकर उचित फैसला लेगी। महाराष्ट्र मंडल आयोग की सिफारिशों को स्वीकार करने के बाद ओबीसी आरक्षण शुरू करने वाला देश का पहला राज्य था और इस संबंध में निर्णय राकांपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद पवार ने लिया था।"

न्यायालय ने राज्य सरकार की अपील को किया खारिज :

उच्चतम न्यायालय ने ओबीसी आरक्षण के खिलाफ राज्य सरकार की अपील को खारिज कर दिया है। नवाब मलिक ने आगे ये भी कहा कि, "वह इस विचार से सहमत हैं कि, ओबीसी को अन्य आरक्षणों के साथ राजनीतिक आरक्षण भी मिलना चाहिए।"

राज्य सरकार सभी कानूनी मुद्दों को अच्छी तरह जानने-समझने के बाद ही इस पर उचित निर्णय लेगी।

NCP के राष्ट्रीय प्रवक्ता नवाब मलिक

शीर्ष न्यायालय ने अपने फैसले में स्पष्ट कहा-

शीर्ष न्यायालय ने अपने फैसले में स्पष्ट किया कि, "एक आयोग बनाकर ओबीसी की जनगणना की जाए। न्यायालय ने देश में ओबीसी समुदाय के लोगों की गणना करने की भी बात कही। अगर यह जनगणना पूरी की जाती है तो देश में, राज्य में और जिले में ओबीसी लोगों की संख्या का पता लग जाएगा जिसके बाद इस संबंध में आगे फैसला लिया जा सकता है।"

महाराष्ट्र में आरक्षण की लड़ाई इसलिए ज्यादा मुश्किल में हुई है, क्‍योंकि एक तरफ जहां सरकार के सामने मराठा समाज को आरक्षण देने की चुनौती है। तो दूसरी तरफ अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) समाज ठाकरे सरकार को चेतावनी दे रहे कि, अगर उनके कोटे से मराठा समाज को आरक्षण दिया गया, तो इसका सड़क पर उतर कर कड़ा विरोध किया जाएगा।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें शीर्षक-उप शीर्षक और संबंधित अतिरिक्त प्रचलित जानकारी जोड़ी गई है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co