बिहार विधानसभा में मचे बवाल की हो रही निंदा-विपक्ष के निशाने पर नीतिश सरकार
बिहार विधानसभा में मचे बवाल की हो रही निंदा-विपक्ष के निशाने पर नीतिश सरकारPriyanka Sahu -RE

बिहार विधानसभा में मचे बवाल की हो रही निंदा-विपक्ष के निशाने पर नीतिश सरकार

बिहार विधानसभा से बीते दिन जो दृश्य सामने आया है, उसकी हर कोई निंदा कर रहा है। साथ ही विपक्ष नेता राज्‍य की नीतिश सरकार पर जोरदार निशाने साध रही है...

बिहार, भारत। देश में कब किस राज्‍य की राजनीति चर्चा में आ जाए इस बारे में कुछ नहीं नहीं कहा जा सकता। इस समय बिहार की विधानसभा में बीते दिन जो कांड हुआ, उसको लेकर सोशल मीडिया पर कई हैशटैग ट्रेंड हो रहे हैं। तो वहीं, राज्‍य की नीतिश सरकार विपक्ष के निशाने पर है। दरअसल, बिहार विधानसभा से बीते दिन जो दृश्य सामने आया है, उसकी हर कोई निंदा कर रहा है।

क्‍या है मामला :

बात यह है कि, बिहार विधानसभा में कल 23 मार्च को नीतिश सरकार द्वारा पुलिस बल को कथित तौर पर बगैर वारंट की गिरफ्तारी की शक्ति देने वाला 'विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक' पेश हुआ, जो पास भी हो चुका है, ले‍किन इसका राजद समेत अन्य विपक्षियां पार्टियां विरोध कर रही थीं और ये सदन में ये विरोध देखते ही देखते बवाल इतना बढ़ गया कि, सदन में अभूतपूर्व स्थिति नजर आई। विपक्ष के विधायकों और सुरक्षाबलों में झड़प हुई, विपक्षी विधायक धरने पर भी बैठ गए। हंगामा इतना बढ़ गया कि विधानसभा अध्यक्ष को मार्शल के अलावा पुलिस बुलानी पड़ी।

राहुल गांधी ने कहा, RSS मय हो चुके हैं नीतीश :

बिहार विधानसभा चुनाव में हुए हंगामे और विपक्ष के विधायकों की कथित पिटाई के बाद आज बुधवार को विपक्ष के नेताओं की प्रतिक्रिया आ रही है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को आड़े हाथ लेते हुए ट्वीट कर कहा- बिहार विधानसभा की शर्मनाक घटना से साफ़ है कि मुख्यमंत्री पूरी तरह RSS/BJP-मय हो चुके हैं। लोकतंत्र का चीरहरण करने वालों को सरकार कहलाने का कोई अधिकार नहीं है। विपक्ष फिर भी जनहित में आवाज़ उठाता रहेगा- हम नहीं डरते!

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता तेजस्वी यादव ने कहा- कल सदन में काला कानून पेश किया गया और कानून पेश करने के बाद विपक्षी विधायकों को लात-घूसे और महिलाओं का चीरहरण कराने का काम नीतीश कुमार ने किया। इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ, पूरा देश नीतीश कुमार से सवाल कर रहा है और नीतीश कुमार ने शर्म और नैतिकता को बेच खाया है।

मेरा नाम तेजस्वी है। सीएम नीतीश और उनके कठपुतली अधिकारियों को पता होना चाहिए कि कोई भी सरकार स्थायी नहीं है। विधानसभा के अंदर विधायकों के साथ दुर्व्यवहार और मारपीट की गई। उन्होंने एक अप्राकृतिक प्रवृत्ति निर्धारित की है, यदि सीएम घटना के लिए माफी नहीं मांगते हैं, तो हम शेष कार्यकाल के लिए विधानसभा का बहिष्कार कर सकते हैं।

RJD के नेता तेजस्वी यादव

अखिलेश बोले- बिहार में लोकतंत्र पर कातिलाना हमला :

सपा के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने कहा- बिहार विधानसभा में सशस्त्र बलों द्वारा विधायकों पर हमला आपराधिक कृत्य है. सड़क पर बेरोज़गार युवाओं पर भी जो हमले हुए वो दिखाते हैं कि सत्ता मिलने के बाद भाजपाई सरकारें जनता को क्या समझती हैं. निंदनीय! बिहार में लोकतंत्र पर क़ातिलाना हमला हुआ है।

तो वहीं, बिहार विधानसभा में कल हुए हंगामे पर बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और BJP सांसद सुशील मोदी ने कहा- जिस तरह की गुंडागर्दी, तोड़-फोड़ और हाथापाई विपक्ष ने की है, मेरे 32 साल के संसदीय जीवन में मैंने आज तक ऐसा दृश्य नहीं देखा। कल अगर उनको मौका मिल गया तो वो बिहार का भी ये ही हाल करेंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co