P.Chidambaram Reaction on Omar-Mehbooba PSA Case
P.Chidambaram Reaction on Omar-Mehbooba PSA Case|Priyanka Sahu -RE
पॉलिटिक्स

उमर-महबूबा पर लगाए गए PSA से पी. चिदंबरम हैरान-परेशान

जम्मू-कश्मीर के दो नेताओं उमर और महबूबा पर PSA के तहत मामला दर्ज होने के खिलाफ पूर्व गृह मंत्री पी. चिदंबरम ने अपनी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त कर नाराजगी जाहिर की और कहा- यह लोकतंत्र का सबसे घटिया कदम है...

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। जम्मू-कश्मीर के दो पूर्व मुख्यमंत्री व नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की नेता महबूबा मुफ्ती इन दोनों पर पब्लिक सेफ्टी एक्ट (PSA) लगा दिया गया है। दोनों नेताओं उमर और महबूबा पर PSA के तहत मामला दर्ज होने के खिलाफ पूर्व गृह मंत्री पी. चिदंबरम ने शुक्रवार को ट्वीट के जरिए अपनी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त कर नाराजगी जाहिर की है।

पी. चिदंबरम ने क्‍या कहा?

दरअसल पूर्व गृह मंत्री पी. चिदंबरम का यह कहना है कि, मैं दोनों नेताओं पर लगाए गए PSA से हैरान और परेशान हूं।

लोकतंत्र का सबसे घटिया कदम :

इसके अलावा पी. चिदंबरम ने ट्वीट में लिखा- 'उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती और अन्य के खिलाफ पब्लिक सेफ्टी एक्ट (PSA) की क्रूर कार्रवाई से हैरान और परेशान हूं, आरोपों के बिना किसी पर कार्रवाई लोकतंत्र का सबसे घटिया कदम है। जब अन्यायपूर्ण कानून पारित किए जाते हैं या अन्यायपूर्ण कानून लागू किए जाते हैं, तो लोगों के पास शांति से विरोध करने के अलावा क्या विकल्प होता है?'

PM मोदी पर साधा निशाना :

पी. चिदंबरम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए यह बात भी कही कि, ''पीएम का कहना है कि विरोध प्रदर्शन से अराजकता होगी और संसद और विधानसभाओं द्वारा पारित कानूनों का पालन करना चाहिए। वह इतिहास और महात्मा गांधी, मार्टिन लूथर किंग और नेल्सन मंडेला के प्रेरक उदाहरणों को भूल गए हैं। शांतिपूर्ण प्रतिरोध और सविनय अवज्ञा के माध्यम से अन्यायपूर्ण कानूनों का विरोध किया जाना चाहिए, यह सत्याग्रह है।''

बता दें कि, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती इन लोगों की 6 महीने की एहतियातन हिरासत अवधि बृहस्पतिवार को खत्म हो रही थी। जब से अनुच्छेद 370 हटाया गया तभी से यह दोनों पूर्व मुख्यमंत्री हिरासत में हैं। इसके अलावा अब PSA का मामला दर्ज होने के साथ ही दोनों नेताओं को बिना ट्रायल के 3 महीने की जेल भी हो सकती है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co