पंकजा की BJP से दूरियां-बदला ट्विटर Bio, राउत के बयान से खलबली

महाराष्‍ट्र में सरकार बनने केे बाद एक नया बवाल मचने केे आसार है, यहां एक तरफ भाजपा की नेता ने अपने ट्विटर बायो से BJP का नाम हटाया, तो वहीं दूसरी और इस मामलेे पर संजय राउत का बड़ा बयान सामने आया है...
पंकजा की BJP से दूरियां-बदला ट्विटर Bio, राउत के बयान से खलबली
Pankaja Munde TwitterPriyanka Sahu -RE

राज एक्‍सप्रेस। महाराष्‍ट्र की राजनीति में एक बार फिर नया बवाल मचने वाला है और भाजपा को एक और झटका लग सकता है, क्‍योंकि अपने फेसबुक पोस्ट से महाराष्ट्र की राजनीति में खलबली मचाने वाली बीजेपी नेता और राज्य की पूर्व मंत्री पंकजा मुंडे ने अचानक अपने ट्विटर अकाउंट (Pankaja Munde Twitter) पर बायो बदल दिया है।

पंकजा मुंडे की BJP से दूरियां :

ट्विटर बायो बदलने के साथ ही पार्टी छोड़ने व दूरियों के संकेत नजर आने लगे हैं, इस मामले पर राज्‍य में एक बार फिर कयासबाजी तेज हो चली हैं।

दरअसल, पंकजा मुंडे ने अपने ट्विटर बायो में से पार्टी का नाम यानी BJP हटा दिया है। बताते चले कि, पंकजा मुंडे ने रविवार को ही अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा था, ‘‘अब सोचने और निर्णय लेने की जरूरत है कि आगे क्या किया जाए?’’

इसके अलावा पंकजा ने मराठी में एक फेसबुक पोस्ट में लिखा था, ‘‘मौजूदा राजनीतिक बदलावों की पृष्ठभूमि में भावी यात्रा पर फैसला लेने की आवश्यकता है। खुद से बात करने के लिए मुझे 8 से 10 दिन चाहिए। अब क्या करना है? कौन सा मार्ग चुनना है? हम लोगों को क्या दे सकते हैं? हमारी ताकत क्या है? लोगों की अपेक्षाएं क्या हैं? मैं इन सभी पहलुओं पर विचार करूंगी और आपके सामने 12 दिसंबर को आऊंगी।’’

पंकजा मुंडे पर संजय राउत का बड़ा बयान :

इसी बीच शिवेसना के सांसद संजय राउत का भी एक बड़ा बयान सामने आया है, जिससे और सस्पेंस बढ़ गया है, दरअसल संजय राउत ने कहा है कि, ''सिर्फ पंकजा नहीं, बल्कि भाजपा के कई नेता हमारे संपर्क में हैं।''

कौन है पंकजा मुंडे :

पंकजा मुंडे महाराष्ट्र के पूर्व उपमुख्यमंत्री और भाजपा के दिवंगत नेता गोपीनाथ मुंडे की बेटी हैं, इन्‍होंने वर्ष 2009 व 2014 में बीड जिले की परली विधानसभा सीट से चुनाव में जीत हासिल कर भाजपा युवा मोर्चा से राजनीति शुरू की थी, हालांकि इनका नाम 206 करोड़ की चिक्की घोटाले में भी सामने आया था।

इससे पहले मध्य प्रदेश में कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा अपने ट्विटर बायो से पार्टी का नाम हटाया गया था, जिससे भोपाल से लेकर दिल्ली तक राजनीतिक गलियारों में हलचल मची थी कि, आखिर ऐसा क्यों किया?

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co