बिहार: पशुपति पारस की PM मोदी से पासवान को भारत रत्न देने की मांग
बिहार: पशुपति पारस की PM मोदी से पासवान को भारत रत्न देने की मांगSyed Dabeer Hussain - RE

बिहार: पशुपति पारस की PM मोदी से पासवान को भारत रत्न देने की मांग

रामविलास पासवान की पार्टी व उनके नाम पर कब्जा जमाने के लिए सियासी उठापटक के बीच अब उनके भाई पशुपति पारस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से रामविलास पासवान को भारत रत्न दिए जाने की मांग की है।

बिहार, भारत। बिहार में लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) में राजनीति इस कदर गरमाई की अभी तक सुलझ नहीं पाई है। रामविलास पासवान की पार्टी व उनके नाम पर कब्जा जमाने के लिए सियासी उठापटक का दौर जारी है। इसी बीच अब उनके भाई पशुपति पारस ने नया पैंतरा सामने आया, जिसमें उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से रामविलास पासवान को भारत रत्न दिए जाने की मांग की है।

पासवान के बाद अब पारस नेतृत्व गुट ने की यहीं मांग :

दरअसल, चिराग पासवान ने गुरुवार को PM नरेंद्र मोदी से पार्टी के संस्थापक और पूर्व केंद्रीय मंत्री दिवंगत रामविलास पासवान को भारत रत्न देने की अपील की थी और अब इसके बाद लाेक जनशक्ति पार्टी (LJP) के पशुपति कुमार पारस के नेतृत्व गुट ने भी यही मांग की है कि, ''पटना या हाजीपुर में रामविलास की आदमकद प्रतिमा लगाई जाए। 5 जुलाई को होने वाले रामविलास पासवान की जयंती से पहले पीएम से ये मांग की गई थी।''

इतना ही नहीं बल्कि पारस गुट ये भी चाहता है कि, "CM नीतीश कुमार रामविलास को भारत रत्न देने की सिफारिश करते हुए केंद्र को एक प्रस्ताव भेजें।" इसी तरह का प्रस्ताव पहले नई दिल्ली में चिराग पासवान की अध्यक्षता में LJP की कार्यकारी समिति की बैठक में अपनाया गया था और चिराग पासवान ने तब PM मोदी को पत्र लिखकर अपने पिता को राष्ट्र निर्माण और दलितों के उत्थान में उनके योगदान के लिए भारत रत्न से सम्मानित करने का आग्रह किया था।

रामविलास पासवान का 5 जुलाई को जन्‍मदिन :

बता दें कि, रामविलास पासवान का 5 जुलाई को जन्‍मदिन आने वाला है, इसी के मद्देनजर उनके बेेटे चिराग और भाई पारस दोनों ही गुट उनके जन्मदिन समारोह की तैयारियों में जुटे हुए हैं। इधर, रामविलास पासवान के बेटे और जमुई के सांसद चिराग ने हाजीपुर के पास एक दलित बस्ती सुल्तानपुर में एक समारोह आयोजित करने की घोषणा की है, जबकि 5 जुलाई को पारस गुट बिहार की राजधानी पटना के LJP ऑफिस में रामविलास पासवान के जन्‍मदिन का जश्न मनाएगा।

पारस ने गुरुवार को एक बयान जारी कर यह बात भी कही कि, ''मेरे प्यारे भाई रामविलास पासवान दलितों के मसीहा थे। वह उन घरों में मोमबत्तियां जलाना चाहता था, जो सदियों से अँधेरे में पड़े थे। हमारी पार्टी उनके सपनों को पूरा करने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co