राजनीतिक लाभ के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं प्रधानमंत्री मोदी : भूपेश
भूपेश ने प्रधानमंत्री मोदी पर साधा निशानाSyed Dabeer Hussain - RE

राजनीतिक लाभ के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं प्रधानमंत्री मोदी : भूपेश

भूपेश बघेल ने लगातार तीसरे दिन श्री मोदी पर हमला बोलते हुए पत्रकारों से कहा कि मोदी, भाजपा एवं आरएसएस राजनीतिक दुष्प्रचार कर उसका लाभ लेने की हमेशा कोशिश में रहते हैं, इसका ताजा उदाहरण पंजाब है।

रायपुर, छत्तीसगढ़। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर पंजाब दौरा रद्द करने और वहां के मुख्यमंत्री पर विमानतल पर की गई टिप्पणी के लिए हमला जारी रखते हुए कहा हैं कि जब वह खुद अपने को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं तो वह देश की सीमाओं को क्या सुरक्षित रखेंगे।

श्री बघेल ने लगातार तीसरे दिन आज फिर श्री मोदी पर हमला बोलते हुए पत्रकारों से कहा कि श्री मोदी, भाजपा एवं आरएसएस राजनीतिक दुष्प्रचार कर उसका लाभ लेने की हमेशा कोशिश में रहते हैं, इसका ताजा उदाहरण पंजाब हैं। सभा में 70 हजार कुर्सिंयां लगाई गई थी,और भीड़ 500 भी नहीं थी, इसलिए जान के खतरे का शगूफा छोड़ दिया गया हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को अपनी सुरक्षा एजेन्सियों पर विश्वास नहीं हैं, किसानों पर विश्वास नहीं हैं तो आखिर विश्वास किस पर हैं। यह देश तो किसानों का है।

उन्होंने कहा कि पिछले तीन चार दिन से जिस तरह से इस मसले को लेकर सुनियोजित दुष्प्रचार किया जा रहा हैं और मुख्यमंत्री चन्नी के पुतले जलाए जा रहे हैं, इस सभी के पीछे राजनीतिक लाभ लेने की कोशिश हैं। उन्होंने कहा कि पंजाब में पहले भी भाजपा की कोई ताकत नहीं थी और किसान आन्दोलन तथा उसमें हुई मौतों के बाद वह बचा खुचा आधार भी खो चुकी हैं। श्री बघेल ने कहा कि पूर्व में भी प्रधानमंत्री रहते इन्दिरा जी, राजीव जी एवं डा.मनमोहन सिंह के साथ कुछ घटनाएं वास्तविक रूप से घटित हुई लेकिन कभी उन्होने उसका न तो प्रचार किया और उससे लाभ लेने की कोशिश की।यहां तो कुछ हुआ ही नहीं।

मोदी पर हमले कर राजनीतिक लाभ लेने के राज्य भाजपा नेताओं के बयान के बारे में पूछे जाने पर श्री बघेल ने पलटवार करते हुए कहा कि, धर्मान्तरण एवं साम्प्रदायिकता का जहर राज्य में घोलने की संघ एवं भाजपा की पूरी कोशिश के बाद भी राज्य के सभी 14 नगर निगमों में कांग्रेस के कब्जे से उन्हे संदेश मिल गया है। राज्य के मतदाताओं ने उन्हें नकार दिया है।

राज्य के चर्चित लेमरू ऐलीफंट कारीडोर में पडऩे वाली कोल खदानों के बारे में पूछे जाने पर श्री बघेल ने कहा कि इस क्षेत्र में 39 कोल खदानें आ गई है इस कारण इसमें खनन का सवाल ही नही उठता हैं। उन्होने कहा कि केन्द्रीय कोयला मंत्री से यह स्पष्ट कर चुके हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co