Raj Express
www.rajexpress.co
जनसंख्या बढ़ने का मूल कारण गरीबी है : दिग्विजय सिंह
जनसंख्या बढ़ने का मूल कारण गरीबी है : दिग्विजय सिंह |Social Media
पॉलिटिक्स

जनसंख्या बढ़ने का मूल कारण गरीबी है : दिग्विजय सिंह

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा है कि आरएसएस का काम ही झगड़े, दंगे-फसाद और विवाद कराना है। जानिए और क्या बोले दिग्विजय सिंह...

Rishabh Jat

राज एक्सप्रेस। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय ने जनसंख्या नियंत्रण पर कहा कि आरएसएस के लोग ये भूल जाते हैं कि जनसंख्या बढ़ने का मूल कारण गरीबी है। गरीब लोगों के यहां ही ज्यादा बच्चे मिलेंगे और पढ़े लिखे लोगों के यहां कम। राजगढ़ घटना पर कहा कि, धारा 144 का उल्लंघन किया है, यदि कोई महिला कलेक्टर के साथ गाली-गलौज करेगा तो ऐसे में उन्होंने थप्पड़ मार दिया, तो क्या बुरा किया।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय ने कहा कि

भारत के राष्ट्रपति संसद में कहते हैं कि एनआरसी लेकर आएंगे। अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह कह रहे हैं कि, एनआरसी पर बात ही नहीं हुई। देश की जनता को ये बताया जाना चाहिए कि झूठ कौन बोल रहा है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति ने संसद में अभिभाषण में एनआरसी लाने की बात कही थी। इसके बाद अमित शाह ने कहा था कि, पहले सीएए फिर एनपीआर उसके बाद एनआरसी आएगा। अब प्रधानमंत्री कहते हैं कि इस पर बातचीत ही नहीं हुई है। ये कैसी सरकार है हम किस पर विश्वास करें।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने आगे कहा

इसी अविश्वास के कारण देश में भ्रम की स्थिति बनी है और एनआरसी और सीएए का विरोध हो रहा है। मैं उन युवकों से कहना चाहता हूं आज नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन (राष्ट्रीय नागरिक पंजी) बनाने के बारे में मांग करने के बजाय अमित शाह-मोदी से मांग करो कि 'नेशनल रजिस्टर ऑफ अनइंप्लॉयड यूथ बनाइये। बेरोजगार लोगों का रजिस्टर बनाइये। सिटिजन रजिस्टर तो हमारे पास पहले से बना हुआ है। आधार कार्ड पर हमारा बायोमेट्रिक लेते हो, वोटर कार्ड आपके पास हैं। अब एनआरसी की जरूरत क्या है? मैं बेरोजगारों से कहना चाहता हूं कि धर्म का पालन करो। धर्म के पालन करने में कोई किसी को नहीं रोकता। लेकिन इनके बहकावे में मत आओ। ये तुमको रोजगार नहीं दे रहे हैं, तुमको उस रास्ते पर ले जा रहे हैं, जिसमें रोजगार नहीं मिलता। दिग्विजय ने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा, ''केवल भावनाएं भड़का कर लोगों को वोट कमाने का एक माध्यम बना लिया है। इस बात को समझने की जरूरत है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।