Raj Express
www.rajexpress.co
BJP सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर का बयान
BJP सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर का बयान |Sudha Choubey- RE
पॉलिटिक्स

विपक्ष के तांत्रिक क्रिया से BJP नेताओं का निधन - प्रज्ञा ठाकुर

BJP सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने एक बयान पेश कर हैरान कर दिया है, उन्‍होंने कहा कि, विपक्ष के तांत्रिक क्रिया से BJP नेताओं का निधन हो रहा हैं, इस पर राजनीति भी तेज हो गई हैं।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर एक बार फिर अपनेे नए बयान को लेकर सुर्खियों आ गई हैं। दरअसल आज 26 अगस्‍त को प्रदेश भाजपा कार्यालय में पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली और मध्‍य प्रदेश के पूर्व CM बाबू लाल गौर की श्रद्धांजलि सभा रखी गई थीं, इस दौरान प्रज्ञा ठाकुर ने अपना एक बयान पेश कर हैरान कर दिया है।

क्‍या बोलीं प्रज्ञा ठाकुर :

प्रज्ञा ठाकुर ने अपने बयान में कहा कि, ''भाजपा के वरिष्ठ नेताओं का पिछले दिनों से एक के बाद एक नेताओं का निधन हो रहा है और इसके पीछे विपक्ष का हाथ है, विपक्ष भाजपा पार्टी को नुकसान पहुंचाने के लिए नेताओं पर विपक्ष "मारण शक्ति' (तांत्रिक क्रिया) का प्रयोग कर रहा है।"

श्रद्धांजलि सभा में ये नेता रहे उपस्थित :

इस श्रद्धांजलि सभा के दौरान प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह, सांसद प्रभात झा, कैलाश विजयवर्गीय, नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव सहित प्रदेश के सभी वरिष्ठ नेता उपस्थित थे। सुश्री प्रज्ञा ठाकुर का ये बयान पेश करने के बाद इस पर राजनीति तेज हो गई हैं, साथ ही प्रदेश की राजनीति में एक नया विवाद पैदा हो गया है, और उन्‍हीं की पार्टी के नेताओं ने उनके इस बयान से किनारा कर लिया है। वहीं राकेश सिंह ने कहा कि, प्रज्ञा ठाकुर के इस बयान को राजनीतिक चश्मे से नहीं देखा जाना चाहिए।

इन नेताओं ने किया पलटवार :

कांग्रेस मीडिया सेल की अध्यक्ष शोभा ओझा ने इस बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि, ''प्रज्ञा का बयान बेहद आपत्तिजनक है। वो अपना मानसिक संतुलन खो चुकी हैं। उन्हें इलाज की जरूरत है।''

वहीं, कम्प्यूटर बाबा का कहना है कि, ''एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अंतरिक्ष में ले जाने की बात कर रहे हैं और यहां दूसरी तरफ उनकी पार्टी की सांसद प्रज्ञा ठाकुर इस तरह की बात कह रही है। संत समाज प्रधानमंत्री से मुलाकात कर प्रज्ञा ठाकुर को पार्टी से निकालने की भी मांग करेगा।''

बताते चले कि, प्रज्ञा ठाकुर इससे पहले भी नाथू राम गोडसे पर दिए गए विवादित बयान को लेकर विवाद में घिर चुकी है और उनके इस बयान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने स्वयं नाराजगी जताई थी।