Raj Express
www.rajexpress.co
Rahul Bajaj Statement
Rahul Bajaj Statement|Social Media
पॉलिटिक्स

बजाज समूह के चेयरमैन के मोदी सरकार पर तीखे बोल, गरमाई राजनीति

बजाज समूह के चेयरमैन राहुल बजाज हमेशा सरकार को लेकर भला-बुरा कहने में आगे रहेे और अब उनके द्वारा दिए बयान से राजनीति जगत में उथल-पुथल मच गई है।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। देश की राजनीति में इस समय एक जाने-माने बिजनेसमैन और बजाज समूह के चेयरमैन राहुल बजाज अपने बयानों (Rahul Bajaj Statement) को लेकर काफी सुर्खियों में हैं। यह वहीं बिजनेसमैन हैं, जो हमेशा सरकार को लेकर भला-बुरा कहने में आगे रहते हैं और ऐसा नहीं है कि, वह सिर्फ बीजेपी या मोदी सरकार पर ही सवाल उठाते हो, बल्कि कांग्रेस और पूर्ववर्ती यूपीए सरकार पर भी आलोचनाएं करते नजर आए हैं। इसी बीच बजाज कंपनी के मालिक राहुल बजाज द्वारा दिए गए एक बयान से राजनीतिक गरमा गई है।

क्‍या बोले बजाज कंपनी के मालिक?

दरअसल, राहुल बजाज का यह कहना है कि, मोदी सरकार के राज में लोग डरे हुए हैं, कुछ भी कहने से डरते हैं। देश के गृह मंत्री और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की मौजूदगी में एक कार्यक्रम के दौरान बजाज समूह के चेयरमैन राहुल बजाज ने यह बात कहीं कि, जब यूपीए की सरकार थी, तो हम किसी की भी आलोचना कर सकते थे, अब हम अगर आपकी खुले तौर पर आलोचना करें तो इतना विश्वास नहीं है कि, आप इसे पसंद करेंगे।

हालांकि, कार्यक्रम में मौजूद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी तुरंत ही राहुल बजाज को जवाब देते हुए ये कहा-

मोदी सरकार की मीडिया लगातार आलोचना करती है, लेकिन फिर भी आप ऐसा कह रहे हैं, तो हम स्थिति को सुधारने के लिए काम जरूर करेंगे। मोदी सरकार के काम में पारदर्शिता की बात करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि, अगर गुणवत्ता के आधार पर सरकार की आलोचना होती है तो हम उसके आधार पर सुधार की कोशिश करते हैं, हालांकि किसी को किसी से डरने की जरूरत नहीं है।
अमित शाह

निर्मला सीतारमण ने कहा-

वहीं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने राहुल बजाज के इस बयान को राष्ट्रहित पर चोट बताया है। इसके अलावा उन्‍होंने राहुल बजाज के बयान पर ट्वीट करते हुए लिखा- गृह मंत्री अमित शाह ने उन सवालों का जवाब दे दिया है, जिन्‍हें राहुल बजाज ने उठाया है। सवाल और आलाचनाएं सुनी जाती हैं और उनका हल निकाला जाता है। अपने विचार का प्रचार करने के बजाय उत्‍तर हासिल करने का बेहतर तरीका खोजना चाहिए ऐसे विचार के प्रसार राष्ट्रहित को नुकसान पहुंचाता है।

राहुल बजाज का यह बयान सामने आने के बाद कांग्रेस के कई नेता समर्थन देते हुए अपनी प्रतिक्रियां दे रहे हैं।

राहुल बजाज ने जो कहा, वह देशभर में, हर क्षेत्र की साझी भावना है। यदि एक समाज में, एक देश में, एक शहर में सामंजस्य नहीं है तो आप कैसे यह उम्मीद कर सकते हैं कि निवेशक आयेंगे और अपना पैसा वहां लगायेंगे। पैसा केवल वहीं निवेश किया जाता है जहां वह बढ़ सकता है और जहां उसके कई गुणा बढ़ने की उम्मीद हो सकती है और यह केवल उन क्षेत्रों में बढ़ सकता है जहां शांति, सद्भाव, पारस्परिक निर्भरता और खुशी का माहौल हो।
कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा

वहीं कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी का कहना है कि, ''काफी समय बाद किसी ने सच बोलने की हिम्मत दिखाई।''

पार्टी के एक वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने एक ट्वीट में लिखा- भारतीय कॉरपोरेट विज्ञापन उद्योग में सबसे प्रसिद्ध टैगलाइनों में से एक है कि, ‘आप बजाज को हरा नहीं सकते हैं।’ अमित शाह को भी पता चल गया है कि आप बस एक बजाज को चुप नहीं करा सकते हैं, हमारा बजाज ने बैंड बजा दिया।’

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।