अररिया जनसभा में राहुल का वादा-महागठबंधन की सरकार बनी तो करेंगे ये कार्य...

बिहार के अररिया में कांग्रेस के पूर्व अ‍ध्‍यक्ष राहुल गांंधी ने जनसभा को संबोधित कर केंद्र की मोदी सरकार व राज्‍य की नीतीश सरकार पर जबरदस्‍त प्रहार किया, जानें उनके संबोधन की प्रमुख बातें...
अररिया जनसभा में राहुल का वादा-महागठबंधन की सरकार बनी तो करेंगे ये कार्य...
अररिया जनसभा में राहुल का वादा-महागठबंधन की सरकार बनी तो करेंगे ये कार्य...Twitter

बिहार, भारत। बिहार में विधानसभा चुनाव की दो चरणों की वोटिंग हो चुकी है, वहीं अब तीसरे चरण की वोटिंग के लिए प्रचार-प्रसार जोराें पर है। कांग्रेस के पूर्व अ‍ध्‍यक्ष राहुल गांंधी ने बिहार में एक के बाद एक जिले में रैली को संबोधित कर रहे हैं। आज ही उन्‍होंने अररिया में जनसभा को संबोधित किया और इस दौरान केंद्र की मोदी सरकार व राज्‍य की नीतीश सरकार पर जबरदस्‍त प्रहार किया।

राहुल गांंधी ने अररिया में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा- हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के दिल में अगर किसान-मजदूरों के लिए जगह होती तो जो कोरोना के समय में हुआ, वो किसानों के साथ कभी नहीं होता। मोदी जी कहते हैं, किसान को हमने आज़ाद किया।अब किसान अपना धान और मक्का कहीं भी बेच सकता है, लेकिन मोदी जी एक बात बताइए कि वो बेचेगा कैसे? सड़क से ही तो जाएगा, लेकिन बिहार में सड़क कहाँ है।

जैसे नोटबंदी की वैसे ही लॉकडाउन :

अररिया जनसभा में राहुल गांंधी ने कहा, ''नरेंद्र मोदी जी ने बिना किसी नोटिस, बिना किसी चेतवानी के लॉकडाउन कर दिया। जैसे नोटबंदी की थी वैसे ही लॉकडाउन कर दिया। बिहार और अन्य प्रदेशों के जो गरीब मजदूर थे, उन्हें भूखे-प्यासे हजारों किलोमीटर चलकर वापस आना पड़ा अब इन सबके बावजूद भी नरेंद्र मोदी जी और नीतीश जी बिहार में आकर युवाओं से वोट मांगते हैं।''

नीतीश आपने क्या किया इन पाँच सालों में? आपने सड़क दी? नहीं। गन्ने की शुगर मिल या मक्के की फ़ैक्ट्री दी? नहीं कोई मोदी जी की बात करता है, कोई नीतीश जी की बात करता है, लेकिन सच्चाई यह है कि मोदी जी और नीतीश जी एक ही हैं, क्योंकि नीतीश जी मोदी जी की मदद करते हैं और मोदी जी उन्हें मुख्यमंत्री बना देते हैं।

राहुल गांधी

आगे उन्‍होंने कहा- काले धन के खिलाफ लड़ाई थी तो देश की जनता यानि हमारे किसान, मजदूर, छोटे दुकानदार लाइन में क्यों खड़े थे? क्या वो काले धन वाली जनता थी? देश के प्रधानमंत्री जानते हैं कि देश के लाखों-करोड़ों मजदूर दिहाड़ी पर जीते हैं। प्रधानमंत्री ने एक मिनट नहीं सोचा कि आपके बिना नोटिस या चेतवानी के लॉकडाउन से बिहार और अन्य प्रदेशों के मजदूरों का क्या होगा।

राहुल गांधी द्वारा संबोधन में कहीं गई बातें :

  • छत्तीसगढ़ में जब चुनाव हुआ, तब हमने चुनाव की उस मीटिंग में कहा था कि, कांग्रेस पार्टी की सरकार आएगी तो आपको 2500 रूपये धान का रेट दिया जाएगा। हमने वो किया।

  • नरेंद्र मोदी जी अगर आपने किसानों को आज़ादी दी कि, वो कहीं भी जाकर अपना माल बेच सकता है तो फिर इस देश का किसान खुश क्यों नहीं है? यह कैसी आज़ादी है?

  • मैं आपको कहना चाहता हूँ कि महागठबंधन की सरकार बनेगी तो वह हर जाति, धर्म, गरीब, मजदूर और हर जिले की सरकार होगी। हम मिलकर इस प्रदेश को बदलने का काम करेंगे।

  • पंजाब में फूड प्रोसेसिंग के कारखाने हैं, इसलिए वहाँ सही रेट मिलता है। इसलिए हमें मक्के को प्रोसेस करने के लिए फ़ैक्टरियां बिहार में लगानी पड़ेंगी। हमारी पूरी कोशिश रहेगी कि ये फ़ैक्टरियां आपके खेतों के बिल्कुल पास ही हों।

  • हमारा ये रिश्ता एक दिन का नहीं, बल्कि ज़िंदगी भर का होना चाहिए। वो जितनी नफरत फैलाने की कोशिश करते हैं मैं उतना ही प्यार फैलाने की कोशिश करता हूँ। नफरत को नफरत से नहीं बल्कि प्यार से काटा जा सकता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co