किशनगंज रैली में राहुल का NDA पर जोरदार हमला, मोदी-नीतीश ने बिहार को लूटा

बिहार के किशनगंज में कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की जनसभा, इस दौरान अपने संबोधन में वे मोदी सरकार और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर बरसे।
किशनगंज रैली में राहुल का NDA पर जोरदार हमला, मोदी-नीतीश ने बिहार को लूटा
किशनगंज रैली में राहुल का NDA पर जोरदार हमला, मोदी-नीतीश ने बिहार को लूटाTwitter

बिहार, भारत। बिहार विधानसभा चुनाव दो चरणों में होने के बाद अब तीसरे चरण के लिए प्रचार प्रसार की सरगर्मी जोरो पर है, सभी राजनीतिक पार्टियां सत्ता की कुर्सी पर बैठने के लिए नए-नए दांव चल रही हैं। वहीं, आज मंगलवार को कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने किशनगंज में जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान वे किशनगंज में अपनी इस जनसभा में मोदी सरकार और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर बरसे।

किशनगंज रैली में राहुल गांधी ने कहा- 6 साल से नरेंद्र मोदी हिंदुस्तान के PM हैं और कई साल से नीतीश जी बिहार के मुख्यमंत्री। आज नीतीश जी एनडीए में मोदी जी के साथ पार्टनर बने हुए हैं। आपको याद होगा कि पिछले चुनाव में नीतीश जी हमारे गठबंधन में हमारे साथ खड़े थे, लेकिन बीच में उन्होंने मन बदल लिया। चुनाव जीतते हैं और कहते हैं कि, 500 और 1000 रूपये के सभी नोट बंद। अपना सारा पैसा बैंक में डाल लो। चुनाव के समय कहते हैं कि मैं आपको पैसा दूंगा और प्रधानमंत्री बनते ही आपसे पैसा ले लेते हैं।

PM के दिल में गरीबों, मजदूरों के लिये कोई जगह नहीं :

राहुल गांधी ने अपने संबोधन में कहा, ''कोरोना के दौरान 8 बजे देश के सामने आकर कहते हैं कि 22 दिन की लड़ाई है, 22 दिन में देश कोरोना को हरा देगा। उसके बाद ताली-थाली बजवाने की कहते हैं। नरेंद्र मोदी ने बिना किसी चेतावनी के, बिना किसी नोटिस के बसें बंद कर दी थी, ट्रेन बंद कर दी थी। प्रधानमंत्री के दिल में गरीबों के लिये, मजदूरों के लिये कोई जगह नहीं है। नीतीश जी और मोदी जी ने मिलकर बिहार को लूटा है।''

हम सरकार में भी नहीं थे, ना बिहार में थे, ना केंद्र में थे। कांग्रेस पार्टी ने मजदूरों को बसें दिलवाई किसान, मजदूर, जो भी हमारी हैसियत थी, हमने मजदूरों के लिये किया, क्योंकि हमारे दिल में मजदूरों के लिये जगह हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी

किशनगंज रैली में राहुल के संबोधन में प्रमुख बातें :

  • जब छत्तीसगढ़ सरकार किसान को 2500 रु क्विंटल मूल्य दे सकती है; तो बिहार के किसान को 1200 रु क्विंटल क्यों? क्योंकि यहां की सरकार बिचौलियों को देती है, छत्तीसगढ़ की सरकार किसान के बैंक अकाउंट में सीधा पैसा डालती है।

  • प्रधानमंत्री न्यूनतम समर्थन मूल्य, खरीद व्यवस्था और मंडी व्यवस्था को नष्ट कर रहे हैं, मोदीजी चाहते हैं कि हिंदुस्तान में सिर्फ दो-तीन बड़े बिचौलियों को बेचें। वो चाहते हैं कि किसान मंडी की बजाय सिर्फ अंबानी-अडाणी को बेचे।

  • हमने जो छत्तीसगढ़ में किया है, हम यहां करना चाहते हैं। हम आपके अंदर नई आदत डालना चाहते हैं कि आपको भी छत्तीसगढ़ की तरह 2500 रु क्विंटल मिले, आपको भी अच्छा दाम मिल सकता है।

  • बीजेपी, आरएसएस नफरत फैलाती है। हम बीजेपी, आरएसएस से लड़ते हैं। हमारा काम देश की जनता को एक साथ लाने का है, उनको आगे लेकर जाने का है। जबकि ए और बी टीम का काम नफरत फैलाने का है।

  • हम पहले मनरेगा देंगे, फिर किसानों का कर्जा माफ करेंगे। हम हर कार्य में संतुलन बनाकर चलते हैं। हम रोजगार की बात करते हैं, स्वास्थ्य की बात करते हैं, शिक्षा की बात करते हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co