तीनों कृषि विरोधी कानून वापस लेने पर राहुल गांधी ने आज फिर दिया ये बयान
तीनों कृषि विरोधी कानून वापस लेने पर राहुल गांधी ने आज फिर दिया ये बयानTwitter

तीनों कृषि विरोधी कानून वापस लेने पर राहुल गांधी ने आज फिर दिया ये बयान

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज फिर ये दावा किया कि, तीनों कृषि विरोधी क़ानून वापस लेने ही होंगे, ना डरेंगे, ना झुकेंगे, अत्याचार का सामना, सत्याग्रह से करेंगे...

दिल्‍ली, भारत। कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष व वायनाड से सांसद राहुल गांधी हर एक मुद्दे जिसका देश में विरोध हो, उसका पूरा समर्थन कर रहे हैं। केंद्र की मोदी सरकार के 3 नए कृषि कानूनों का अभी तक अन्‍नदाता इसका विरोध कर रहे हैं और आज फिर राहुल गांधी ने कृषि विरोधी क़ानून को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी।

तीनों कृषि विरोधी क़ानून वापस लेने ही होंगे :

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज बुधवार को हाल ही में अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट साझा करते हुए कहा-

ना डरेंगे, ना झुकेंगे

अत्याचार का सामना

सत्याग्रह से करेंगे।

तीनों कृषि विरोधी क़ानून वापस लेने ही होंगे!

बताते चलें कि, विपक्ष की मुख्‍य पार्टी कांग्रेस के नेता राहुल गांधी लगातार ही किसी न किसी मुद्दे पर ट्वीट साझा करते हुए केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलते ही है। फिर चाहे वो हड़ताल हो, किसानों का आंदोलन हो या फिर महंगाई। इसके मद्देनजर राहुल गांधी ट्वीट के माध्‍यम से मोदी सरकार की आलोचना करते हैं।

बता दें कि, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बीते दिन मंगलवार को ही ब्राउन यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर आशुतोष वार्ष्णेय के साथ ऑनलाइन चर्चा के दौरान वैश्विक लोकतंत्र की स्थिति में भारत की घटती स्थिति को लेकर केंद्र सरकार पर सवाल उठाते हुए ये कहा था कि, ''इराक के तानाशाह सद्दाम हुसैन और लीबिया के मुअम्मर गद्दाफी भी अपने देश में चुनाव करवाते थे और उन्हें जीतते थे। ऐसा नहीं था कि वे मतदान नहीं कर रहे थे, लेकिन उस वोट की रक्षा के लिए कोई संस्थागत ढांचा नहीं था।''

भारतीय लोकतंत्र को लेकर दिए गए इस तरह के बयान पर आज केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने पलटवार करते हुए कहा- राहुल गांधी की बातों पर टिप्पणी करना बेकार है क्योंकि वे विचार से नहीं करते। पता नहीं वे किस ग्रह पर रहते हैं। देश के लोकतंत्र की तुलना गद्दाफी और सद्दाम हुसैन से करना जनता का अपमान है। गद्दाफी और सद्दाम जैसा इस देश में 1975 से 77 केवल 2 ही साल हुआ।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co