किसान आंदोलन पर बोले राहुल- सत्याग्रही किसान मांग पूरी होने पर ही लौटेंगे
किसान आंदोलन पर बोले राहुल- सत्याग्रही किसान मांग पूरी होने पर ही लौटेंगेSocial Media

किसान आंदोलन पर बोले राहुल- सत्याग्रही किसान मांग पूरी होने पर ही लौटेंगे

कांग्रेस नेता राहुल गांधी किसान आंदोलन की तुलना गांधी जी के नेतृत्व में हुए चंपारण किसान आंदोलन से करते हुए कहा कि आंदोलनरत किसान भी सत्याग्रही हैं और वे तब ही लौटेंगे जब उनकी मांग पूरी हो जाएगी।

दिल्ली, भारत। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां चल रहे किसान आंदोलन की तुलना गांधी जी के नेतृत्व में हुए चंपारण किसान आंदोलन से करते हुए कहा कि आंदोलनरत किसान भी सत्याग्रही है और वे तब ही लौटेंगे जब उनकी मांग पूरी हो जाएगी।

श्री गांधी ने आंदोलन कर रहे किसानों को भी चंपारण के किसानों की तरह सत्याग्रही आंदोलनकारी बताया और कहा कि आज के किसान भी पक्के सत्याग्रही हैं और मांग पूरी होने तक सत्याग्रह नहीं छोड़ेंगे।

श्री गांधी ने कहा , "देश एक बार फिर चंपारण जैसी त्रासदी झेलने जा रहा है। तब अंग्रेज कम्पनी बहादुर थी, अब मोदी-मित्र कम्पनी बहादुर हैं , लेकिन आंदोलन का हर एक किसान-मजदूर सत्याग्रही है जो अपना अधिकार लेकर ही रहेगा।"

गौरतलब है कि, महात्मा गांधी के नेतृत्व में बिहार के चंपारण में अप्रैल 1917 में ऐतिहासिक किसान आंदोलन हुआ था। गांधीजी ने दक्षिण अफ्रीका में आजमाए सत्याग्रह और अहिंसा के अपने रास्ते का स्वदेश में पहला प्रयोग चंपारण में किया और अंग्रेज सरकार को अपना फरमान वापस लेना पड़ा था।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। सिर्फ शीर्षक में बदलाव किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co