चुनाव 2022 को लेकर राहुल गांधी के ट्वीट से राजनीतिक गलियारे में हलचल, कहीं ये बात
चुनाव 2022 को लेकर राहुल के ट्वीट से राजनीतिक गलियारे में हलचल Social Media

चुनाव 2022 को लेकर राहुल गांधी के ट्वीट से राजनीतिक गलियारे में हलचल, कहीं ये बात

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट के जरिए चुनाव 2022 को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर जोरदार तंज कसते हुए कहा- नफऱत को हराने का सही मौक़ा है।

दिल्ली, भारत। देश में कोरोना की तीसरी लहर के खतरे के साए के बीच इस साल 2022 में उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत 5 राज्‍यों में होने वाले विधानसभा चुनाव की तारीख सामने आ चुकी है। इस बीच नेताओं की चुनाव की तैयारियां और तेज हो गई है। साथ ही एक-दूसरी पार्टी की आलोचनाओं का सिलसिला भी तेज हो रहा है। इस बीच आज साेमवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने चुनाव से पहले विदेश दौरे पर जा रहे है। इससे पहले उन्‍होंने ट्वीट के जरिए चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर जोरदार तंज कसा है।

चुनाव में इस नफरत को हराने का सही मौका :

दरअसल, विपक्ष की मुख्‍य पार्टी कांग्रेस लगातार भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर नफरत फैलाने का आरोप लगाकर उस पर जोरदार हमला बोल रही है। कांग्रेस पार्टी पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भले ही चुनावी मैदान में न हो, लेकिन उनके ट्वीट राजनीतिक गलियारे में हलचल पैदा करते है। इसी बीच आज कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि, ''देश में साजिश के तहत नफरत फैलाने का काम हो रहा है और आने वाले विधानसभा चुनाव में इस नफरत को हराने का सही मौका है।'' यह प्रतिक्रिया उन्‍होंने ट्वीट जारी कर दी है, साथ ही इलेक्शन 2022 का हैशटैग टैग करते हुए लिखा- नफऱत को हराने का सही मौक़ा है।

तो वहीं कांग्रेस पार्टी ने भी अपने आधिकारिक हैंडल पर ट्वीट कर कहा, ''भाजपाई एजेंडा देश के सौहार्द में नफरत का जहर घोल रहा है, भाजपा अपने राजनीतिक लाभ के लिए देश को नफरत और हिंसा में झोंक रही है। भाजपा को देशवासियों के सवालों के जवाब देने होंगे। भाजपाई सोशल मीडिया टेक फॉग पर निर्भर है और इस खतरनाक एप के जरिए भाजपा समाज में नफरत का जहर घोल रही है। टेक फॉग एप नहीं बल्कि भाजपा की प्रोपेगेंडा मशीनरी का हथियार है, जो देश के लिए हानिकारक है।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.