PM किसान योजना को लेकर PM मोदी पर भड़के राहुल गांधी
PM किसान योजना को लेकर PM मोदी पर भड़के राहुल गांधीSyed Dabeer Hussain - RE

PM किसान योजना को लेकर PM मोदी पर भड़के राहुल गांधी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने 'पीएम किसान योजना' को लेकर प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा और इसे ‘PM किसान उत्पीड़न’ योजना बताते हुए इस अंदाज में यह बात कही है...

दिल्‍ली, भारत। केंद्र की मोदी सरकार एक तरफ जल्द ही 'पीएम किसान सम्मान निधि' की अगली व 12वीं किस्त किसानों के खाते में ट्रांसफर करने पर विचार कर रही हैं। इस बीच विपक्ष की मुख्‍य पार्टी कांग्रेस के नेता राहुल गांधी लगातार किसी न किसी योजना को लेकर केंद्र की मोदी सरकार की आलोचना करते रहते है। इसी सिलसिले में अब आज सोमवार को वे 'पीएम किसान योजना' को लेकर भड़के है।

PM किसान उत्पीड़न योजना :

मोदी सरकार के खिलाफ आज कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता राहुल गांधी ने 'पीएम किसान योजना' को लेकर प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा और इसे ‘PM किसान उत्पीड़न’ योजना बताया। दरअसल, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट साझा कर इस अंदाज में यह बात कही है- PM ‘किसान उत्पीड़न’ योजना

- शहीद किसानों को मुआवज़ा नहीं

- किसान आत्महत्या के आंकड़ें नहीं

- 'मित्रों' के कर्ज़ माफ़, किसानों के नहीं

- ‘सही MSP’ का झूठा वादा

- फसल बीमा के नाम पर इंश्योरेंस कंपनियों को 40,000 करोड़ का फायदा

2022 तक करनी थी 'आय दोगुनी', कर दी 'यातना दोगुनी

बता दें कि, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत किसानों को सालाना 6 हजार रुपये की आर्थिक मदद दी जाती है। इस पैसे को हर चार महीने के अंतराल पर 2-2 हजार रुपये की किस्त के रूप में किसानों के बैंक खातों में भेजा जाता है। अभी तक लाभार्थियों को 11 किस्त के पैसे मिल चुके हैं, और अब सभी की12वीं किस्त की बारी है।

इसी के एक दिन पहले राहुल गांधी ने मोदी सरकार द्वारा सेना में भर्ती के लिए लाई गई 'अग्निपथ योजना' को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा था। उन्‍होंने ट्वीट के जरिए कहा था- 60,000 सैनिक हर साल रिटायर होते हैं, उनमें से सिर्फ 3000 को सरकारी नौकरी मिल रही है। 4 साल के ठेके पर हज़ारों की संख्या में रिटायर होने वाले अग्निवीरों का भविष्य क्या होगा? प्रधानमंत्री की प्रयोगशाला के इस नए Experiment से देश की सुरक्षा और युवाओं का भविष्य दोनों ही खतरे में हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co