लाउडस्पीकर के खिलाफ एक्‍शन में राज ठाकरे, फिर किया यह बड़ा ऐलान
लाउडस्पीकर के खिलाफ एक्‍शन में राज ठाकरे Syed Dabeer Hussain - RE

लाउडस्पीकर के खिलाफ एक्‍शन में राज ठाकरे, फिर किया यह बड़ा ऐलान

मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने फिर ऐलान किया है कि, जहां मस्जिदों से लाउडस्पीकर नहीं उतरेगा, वहां हनुमान चालीसा होगा। यह सामाजिक विषय है, यह धार्मिक नहीं है।

महाराष्ट्र, भारत। महाराष्ट्र में लाउडस्पीकर पर मचा घमासान थम ही नहीं रहा है। इधर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के अध्यक्ष राज ठाकरे इस मामले को लेकर लगतार एक्‍शन मोड़ में नजर आ रहे है। अब हाल ही में मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने एक बार फिर यह बड़ा ऐलान किया है।

यह सामाजिक विषय है, धार्मिक नहीं है :

दरअसल मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने कहा है कि, ''जहां मस्जिदों से लाउडस्पीकर नहीं उतरेगा, वहां हनुमान चालीसा होगा। यह सामाजिक विषय है, यह धार्मिक नहीं है। अगर वे इसे धार्मिक रंग देते हैं, तो हम भी उसी अंदाज में जवाब देंगे। हम इस मुद्दे पर शांति से बात करना चाहते हैं, लेकिन सरकार इसे नहीं समझ रही है। सरकार हमारे लोगों को गिरफ्तार कर रही है, सरकार को हमारे लोगों को गिरफ्तार करने से क्या मिल जाएगा।''

मैं ये नहीं कर रहा हूं कि अजान मत करिए, मस्जिद में प्रार्थना मत करिए। मेरा विरोध बस इतना है कि लाउडस्पीकर का इस्तेमाल मत कीजिए। मेरा विरोध सालभर लाउडस्पीकर के इस्तेमाल के खिलाफ है। कैसे मस्जिदों को लाउडस्पीकर के सालभर इस्तेमाल के लिए अनुमति दी जा सकती है।

मनसे प्रमुख राज ठाकरे

इतना ही नहीं राज ठाकरे ने अपने बयान में यह भी कहा- हमने 4 मई तक लाउडस्पीकर हटाने की विनती की थी। हमने कहा था कि अगर लाउडस्पीकर पर अजान हुआ, तो हम लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा चलाएंगे। मुंबई में 1400 मस्जिदें हैं, 135 मस्जिदों पर सुप्रीम कोर्ट का आदेश तोड़कर लाउडस्पीकर से अजान चलाई गई, मैं सरकार से पूछना चाहता हूं कि इन पर क्या कार्रवाई की गई। मुंबई में 90% मस्जिदों में लाउडस्पीकर का इस्तेमाल नहीं हुआ। मुझे खुशी है कि मस्जिदों ने हमारी बात मानी, इसके लिए हम उन्हें धन्यवाद देना चाहते हैं, लेकिन जो लोग नहीं मान रहे हैं, उनके खिलाफ हम आंदोलन जारी रखेंगे। जब तक सभी मस्जिदों से लाउड स्पीकर बंद नहीं होता, हम ये आंदोलन जारी रखेंगे, ये एक दिन का आंदोलन नहीं है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.