Ravi Shankar Prasad
Ravi Shankar Prasad|Social Media
पॉलिटिक्स

रविशंकर बोले शाहीन बाग में विरोध CAA के नहीं, मोदी के खिलाफ हो रहा

दिल्‍ली के शाहीन बाग में हो रहे प्रदर्शन पर आज केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता रवि शंकर प्रसाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर नागरिकता संशोधन एक्ट मसले पर अपनी प्रतिक्रिया दी...

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। राजधानी दिल्‍ली के शाहीन बाग में जारी प्रदर्शन पर केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता रवि शंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने आज सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर नागरिकता संशोधन एक्ट के मसले पर प्रतिक्रिया दी है। आइये जाने क्‍या बोले रवि शंकर प्रसाद?

दरअसल, केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद का यह कहना है कि, ''शाहीन बाग में हो रहा विरोध नागरिकता संशोधन कानून (CAA) का विरोध नहीं, बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विरोध हो रहा है। हमने बार-बार बताया कि, नागरिकता संशोधन विधेयक किसी कि नागरिकता नहीं छीनता। इस देश का हर मुस्लिम नागरिक इज्जत के साथ इस देश में रहता है और रहेगा।''

विपक्ष पर साधा निशाना :

चर्चा शाहीन बाग की करते हैं, लेकिन ये सिर्फ दिल्ली के एक मोहल्ले तक सीमित नहीं है बल्कि एक विचार है जहां संविधान का कवर है, लेकिन भारत को तोड़ने का मंच दिया जाता है। बच्चों को प्रधानमंत्री के खिलाफ उकसाया जाता है, ये सिर्फ मोदी का विरोध है।
केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद

रवि शंकर प्रसाद ने विपक्ष पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि, हम बार-बार पूछते हैं कि बताइए किस धारा से दिक्कत है, लोकतंत्र में विश्वास करने का दावा करते हैं, लेकिन संसद में खुलकर हुई बहस के बाद पारित कानून पर आपत्ति है। सुप्रीम कोर्ट भी गए, तो उसने चार हफ्ते में सरकार से जवाब मांगा, पूरी लोकतांत्रिक प्रक्रिया सुचारू तौर पर आगे बढ़ रही है। बीजेपी नेता ने यह भी कहा कि, राहुल गांधी, अरविंद केजरीवाल दोनों ही लोग खामोश हैं, लेकिन मनीष सिसोदिया, दिग्विजय सिंह और मणिशंकर अय्यर तो क्या-क्या बोलते हैं।

PFI पर बोले रवि शंकर प्रसाद :

इस दौरान केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) को लेकर यह बात कही कि, ''एजेंसियां अपना काम कर रही हैं, मैं इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देना चाहता हूं, लेकिन अगर कुछ संदिग्ध ट्रांजेक्शन हैं तो यह निश्चित रूप से शंका पैदा करता है। प्रदर्शनों का आयोजन स्वैच्छिक नहीं लगता है''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co