लाउडस्पीकर को लेकर राज पर राउत का पलटवार- आप माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे
लाउडस्पीकर को लेकर राज पर राउत का पलटवार Social Media

लाउडस्पीकर को लेकर राज पर राउत का पलटवार- आप माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे

शिवसेना नेता संजय राउत ने लाउडस्पीकर को लेकर राज ठाकरे के बयान पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा- महाराष्ट्र में शांति है, महाराष्ट्र में कोई भी गैरक़ानूनी लाउडस्पीकर नहीं चल रहा है।

महाराष्‍ट्र, भारत। महाराष्ट्र में लाउडस्पीकर को लेकर विवाद गहराता जा रहा है, एक के बाद एक नेताओं का इस मामले पर रिएक्‍शन दिए जाने का दौर जारी है। अब हाल ही में शिवसेना के नेता संजय राउत का लाउडस्पीकर को लेकर बयान सामने आया है।

महाराष्ट्र में कोई भी गैरक़ानूनी लाउडस्पीकर नहीं चल रहा है :

दरअसल, शिवसेना के नेता संजय राउत ने लाउडस्पीकर को लेकर राज ठाकरे के बयान पर अपनी प्रतिक्रिया दी है और पलटवार करते हुए कहा है- महाराष्ट्र में शांति है, महाराष्ट्र में कोई भी गैरक़ानूनी लाउडस्पीकर नहीं चल रहा है। हमें आंदोलन का मतलब न सिखएं, आप माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे हैं। पूरे देश में लाउडस्पीकर का क़ानून बना है, उसका महाराष्ट्र में पालन हो रहा है।

आज नमाज के दौरान बजा हनुमान चालीसा :

बता दें कि, आज सुबह 5 बजे नमाज के वक्‍त मनसे कार्यकर्ताओं द्वारा लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा बजाया है। इस दौरानृ बांद्रा, भिवंडी और नागपुर में भी अजान के दौरान हनुमान चालीसा बजा। साथ ही नासिक में भी नमाज के दौरान हनुमान चालीसा बजाया गया है, जिसके चलते 7 महिला कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया है।

MNS के अध्यक्ष राज ठाकरे का सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा है, जिसमें उन्‍होंने सभी नागरिकों से एक हिंदू की ताकत दिखाने को कहते हुए कहा है कि, ''यह अभी नहीं होगा, तो कभी नहीं होगा। मैं सभी हिंदुओं से अपील करता हूं कि अगर 4 मई को आप लाउडस्पीकरों से अजान सुनते हैं, तो इसका जवाब उन जगहों पर लाउडस्पीकरों पर हनुमान चालीसा बजाकर दें। तभी उन्हें इन लाउडस्पीकरों की तकलीफ का एहसास होगा।''

सुप्रीम कोर्ट ने लाउडस्पीकरों के लिए एक नियम तय किया था। यह आवाज 10 से 55 डेसिबल के बीच होनी चाहिए। कृपया ध्यान दें कि 10 डेसिबल का स्तर उन फुसफुसाहटों से संबंधित है जो हमारे बीच होती है। 55 डेसिबल का स्तर हमारे किचन में रखे मिक्सर की आवाज के बराबर है।

MNS के अध्यक्ष राज ठाकरे

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.