Raj Express
www.rajexpress.co
Sanjay Raut Statement
Sanjay Raut Statement|Social Media
पॉलिटिक्स

महाराष्ट्र में 25 साल तक शिवसेना का CM रहेगा

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर मची माथापच्ची जारी है, फिलहाल अभी हाल ही में शिवसेना के नेता संजय राउत का एक बयान सामने आया है- आने वाले 25 साल शिवसेना का CM रहे।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन के बीच सरकार गठन को लेकर शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के बीच समझौता होता दिख रहा है, लेकिन अभी कुछ मुद्दे पर माथापच्ची जारी है, फिलहाल अभी हाल ही में शिवसेना के नेता संजय राउत (Sanjay Raut Statement) का एक बयान सामने आया है।

क्‍या है संजय राउत का बयान ?

दरअसल, एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान शिवसेना नेता संजय राउत ने एक बार फिर यह बात कहीं कि, मुख्यमंत्री तो हमारा ही होगा। इसके अलावा उन्‍होंने महाराष्ट्र में 25 साल के लिए शिवसेना का CM बनने की बात कही है।

5 साल नहीं, हम चाहते हैं कि, 25 साल तक शिवसेना का सीएम हो, शिवसेना बड़ी पार्टी है, हम 50 साल से महाराष्ट्र की राजनीति में सक्रिय हैं, हम आते-जाते नहीं रहेंगे, हम सत्ता में ही रहेंगे।
शिवसेना नेता संजय राउत

हम 'मैं वापस आऊंगा' नहीं कहेंगे :

संजय राउत ने बोले- हम तो चाहते हैं कि, आने वाले 25 साल शिव सेना का सीएम रहे, आप पांच साल की बात क्यों करते हो? लेकिन हम ये नहीं कहेंगे कि, मैं वापस आऊंगा, मैं वापस आऊंगा। हमें महाराष्ट्र में रहना है। राज्य के साथ हमारा रिश्ता अस्थायी नहीं है, पांच साल का नहीं है।

वैसे ऐसा लगता है कि, संजय राउत ने यह बात पूर्व मुख्यमंत्री व बीजेपी विधायक दल के नेता देवेंद्र फडणवीस की ओर इशारा करते हुए कहीं हो, क्‍येांकि वह अधिकतर ये कहते रहे- "मैं मुख्यमंत्री हूं और वापस आऊंगा।"

संजय राउत ने आगे यह भी कहा- ''शिवसेना महाराष्ट्र के हित में काम करती रहेगी, महाराष्ट्र के निर्माण में कांग्रेस का भी योगदान रहा है। हम सभी को साथ में लेकर चलेंगे, गठबंधन का फॉर्मूला उद्धव ठाकरे तय करेंगे।''

बीजेपी-शिवसेना में दरार क्‍यों ?

बीजेपी-शिवसेना का गठबंधन टूट गया है, इसकी वजह ये है कि, दोनों दलों में मुख्यमंत्री पद को लेकर दरार पैदा हुई थी, यहां शिवसेना का कहना था कि, सत्ता में बराबर साझेदारी की बात हुई थी, इसलिए ढाई-ढाई साल शिवसेना और बीजेपी दोनों का मुख्यमंत्री होना चाहिए, लेकिन भाजपा ने इस बात से साफ मना कर दिया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।