Raj Express
www.rajexpress.co
संजय राउत
संजय राउत|Social Media
पॉलिटिक्स

संजय राउत के बयान से राजनीति में मची हलचल

शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा- इंदिरा गांधी अंडरवर्ल्ड डॉन करीम लाला से मिलने मुंबई आती थीं, उनके इस बयान के बाद से सियासी हलचल मचने लगी और आखिर फिर इस पर उन्‍होंने सफाई पेश की...

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। शिवेसना पार्टी के नेता संजय राउत अधिकतर अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं, अब हाल ही उन्‍होंने एक ऐसा बयान दिया कि, उनके इस बयान पर राजनीति में हलचल मच गई है। आखिर आज गुरूवार को सियासी घमासान के बाद संजय राउत ने अपने इस बयान पर सफाई भी दी।

संजय राउत ने दी सफाई :

शिवसेना के प्रवक्‍ता और राज्‍यसभा सांसद संजय राउत ने अपने बयान को लेकर सफाई पेश करते हुए कहा कि, ''कांग्रेस पार्टी के मेरे मित्रों को बुरा मानने की जरूरत नहीं है, अगर किसी को लगता है कि मेरे बयान से इंदिरा गांधी की छवि धूमिल हुई या किसी को दुःख पहुंचा, तो मैं अपना बयान वापस लेता हूं। मैं इंदिरा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री जवारलाल नेहरू की हमेशा से इज्जत करता आया हूँ।''

संजय राउत ने किए यह दो ट्वीट-

पहले ट्वीट में संजय राउत ने लिखा- करीम लाला पठान समुदाय के नेता थे। उन्होंने पख्तून-ए-हिंद नाम का संगठन बनाया था। बतौर पठान नेता की हैसियत से उनसे बहुत से बड़े नेता मुलाकात करते थे और इनमें इंदिरा गांधी शामिल थीं। लेकिन जो लोग मुंबई का इतिहास नहीं जानते हैं वे मेरे बयान को तोड़-मरोड़ रहे हैं।

वहीं, दूसरे ट्वीट में संजय राउत ने लिखा- 'मैं कभी एक आयरन लेडी के रूप में इंदिरा गांधी की प्रशंसा करने से पीछे नहीं हटा, जो कठोर फैसले लेती थी। हैरानी की बात यह है कि जो लोग इंदिराजी के इतिहास के बारे में नहीं जानते, वे पूरी ताकत से शोर मचा रहे हैं।'

इतना ही नहीं, बल्कि उन्‍होंने इस ट्वीट को शिवसेना नेता और कैबिनेट मंत्री आदित्य ठाकरे, कांग्रेस नेता राहुल गांधी और राजीव सातव को टैग भी किया है।

क्‍या था संजय राउत का बयान?

दरअसल, बुधवार को एक इंटरव्यू में शिवसेना सांसद संजय राउत ने यह दावा किया था कि, पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी अंडरवर्ल्ड डॉन करीम लाला से मिलने के लिए मुंबई आया करती थीं।

शिवसेना सांसद संजय राउत के इस बयान के बाद मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संजय निरुपम और मिलिंद देवड़ा ने इस बयान को वापस लिए जाने की मांग भी की थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।