किसी की हिम्मत है महाराष्ट्र के किसी नेता को हाथ लगाने की, जानें ऐसा क्‍यों बोले संजय राउत
संजय राउतSocial Media

किसी की हिम्मत है महाराष्ट्र के किसी नेता को हाथ लगाने की, जानें ऐसा क्‍यों बोले संजय राउत

राज ठाकरे को जान से मारने की धमकी पर शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा- महाराष्ट्र के हर नागरिक की सुरक्षा यहां गृह मंत्रालय, इंटेलिजेंस, महाराष्ट्र सरकार की ज़िम्मेदारी है, आपकी पूरी रक्षा करेगी।

महाराष्ट्र, भारत। मस्जिदों में अजाम पढ़ते वक्‍त बजने वाले लाउडस्पीकर को लेकर सुलगी राजनीति का विरोध इतना बढ़ गया कि, महाराष्ट्र की राजनीति गरमा गई और नेताओं की बयानबाजी तेज हुई। इस दौरान लाउडस्पीकर के विरोध में हनुमान चालीसा का पाठ करने की अपील करने वाले महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) प्रमुख राज ठाकरे को जान से मारने की धमकी मिली है, जिसको लेकर अब शिवसेना नेता संजय राउत का बयान आया है।

महाराष्ट्र सरकार की ज़िम्मेदारी है, आपकी पूरी रक्षा करेगी :

इस दौरान शिवसेना नेता संजय राउत ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) राज ठाकरे को मिली धमकी पर अपना बयान दिया है। उन्‍होंंने कहा है- इतने साल से महाराष्ट्र में रह रहे हैं, किसी की हिम्मत है महाराष्ट्र के किसी नेता को हाथ लगाने की। यहां ठाकरे सरकार है। महाराष्ट्र के हर नागरिक की सुरक्षा यहां गृह मंत्रालय, इंटेलिजेंस, महाराष्ट्र सरकार की ज़िम्मेदारी है, आपकी पूरी रक्षा करेगी।

बता दें कि, इन दिनों अपने बयानों को लेकर चर्चा में बने MNS प्रमुख राज ठाकरे को एक धमकी भरा पत्र मिला है। इसके बाद महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के नेता बाला नंदगांवकर ने महाराष्ट्र के गृह मंत्री दिलीप वालसे पाटिल से मुलाकात की और इस मामले की कार्रवाई किए जाने की मांग की है। साथ ही राज ठाकरे को सुरक्षा दिए जाने को कहा। इतना ही नहीं मनसे नेता बाला नंदगांवकर द्वारा चेतावनी देते हुए यह भी कहा- इस मामले में जो करना हो करें, लेकिन अगर राज ठाकरे को कुछ भी हुआ तो महाराष्ट्र जल जाएगा।

बाला नंदगांवकर ने जानकारी देते हुए बताया कि, ''पत्र के जरिए उन्हें और मनसे प्रमुख राज ठाकरे को धमकी दी गई है।राज ठाकरे के कार्यालय में ये पत्र आया था। इसमें हिंदी के साथ ही उर्दू शब्दों का भी प्रयोग किया गया है। इस पत्र में लाउडस्पीकर पर अजान के विरोध में मस्जिदों के सामने हनुमान चालीसा का पाठ करने को लेकर राज ठाकरे की अपील का भी उल्लेख किया गया है।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.