कांग्रेस की सरकार आने पर छात्राओं को स्कूटी और स्मार्टफोन : प्रियंका
कांग्रेस की सरकार आने पर छात्राओं को स्कूटी और स्मार्टफोन : प्रियंकाSyed Dabeer Hussain - RE

कांग्रेस की सरकार आने पर छात्राओं को स्कूटी और स्मार्टफोन : प्रियंका

लखनऊ, उत्तरप्रदेश : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ऐलान किया है कि उनकी पार्टी की सरकार आने पर इंटर पास लड़कियों को स्मार्टफोन और स्नातक छात्राओं को इलेक्ट्रानिक स्कूटी की सौगात दी जायेगी।

लखनऊ, उत्तरप्रदेश। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ऐलान किया है कि उनकी पार्टी की सरकार आने पर इंटर पास लड़कियों को स्मार्टफोन और स्नातक छात्राओं को इलेक्ट्रानिक स्कूटी की सौगात दी जायेगी। श्रीमती वाड्रा ने गुरूवार को ट्वीट किया "कल मैं कुछ छात्राओं से मिली। उन्होंने बताया कि उन्हें पढ़ने व सुरक्षा के लिए स्मार्टफोन की जरूरत है।"

उन्होने कहा "मुझे खुशी है कि घोषणा समिति की सहमति से आज क्क कांग्रेस ने निर्णय लिया है कि सरकार बनने पर इंटर पास लड़कियों को स्मार्टफोन और स्नातक लड़कियों को इलेक्ट्रानिक स्कूटी दी जाएगी।"

दरअसल, बुधवार को पुलिस हिरासत में मृत सफाईकर्मी के परिजनों से मिलने आगरा जाते समय श्रीमती वाड्रा को आगरा एक्सप्रेसवे के एंट्री प्वाइंट पर लखनऊ पुलिस ने रोका था। इस दौरान श्रीमती वाड्रा ने वहां मौजूद छात्राओं से बातचीत की और उनके पूछा कि क्या वे उनके साथ सेल्फी लेना पसंद करेंगी। इस पर छात्राओं ने हामी भरते हुये मोबाइल फोन न होने की मजबूरी गिनाई जिस पर कांग्रेस महासचिव ने कहा कि उनकी सरकार यदि सत्ता में आती है तो उनको मोबाइल फोन दिया जायेगा।

प्रियंका की इस घोषणा से गदगद छात्राओं ने श्रीमती वाड्रा के साथ सेल्फी ली और उनसे मोबाइल नम्बर भी मांगा ताकि वह इस यादगार लम्हे को अपने फोन पर ट्रांसफर कर सकें। इस दौरान कुछ महिला पुलिसकर्मियों ने भी प्रियंका के साथ सेल्फी ली। बाद में पुलिस श्रीमती वाड्रा को पुलिस लाइन ले गयी जहां से उन्हे आगरा जाने की इजाजत मिल गयी।

ड्यूटी के दौरान सेल्फी लेने पर महिला पुलिसकर्मियों के साथ कार्यवाही की आशंका से श्रीमती वाड्रा ने एक अन्य ट्वीट में सेल्फी ले रही तस्वीर के साथ पोस्ट किया "खबर आ रही है कि इस तस्वीर से योगी जी इतने व्यथित हो गए कि इन महिला पुलिसकर्मियों पर कार्यवाही करना चाहते हैं। अगर मेरे साथ तस्वीर लेना गुनाह है तो इसकी सजा भी मुझे मिले, इन कर्मठ और निष्ठावान पुलिसकर्मियों का कैरियर खराब करना सरकार को शोभा नहीं देता।"

गौरतलब है कि यूपी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की बागडोर संभाल चुकी प्रियंका प्रदेश में काफी सक्रिय हो चुकी है। हाल ही में लखीमपुर हिंसा के पीड़ितों से मिलने के बाद लखनऊ में दलित बस्ती में स्थित वाल्मीकि मंदिर में सफाई और महिलाओं की 40 फीसदी टिकट देने के ऐलान के बाद कल आगरा में वाल्मीकि समाज के युवक की पुलिस हिरासत में मौत पर ताजनगरी जाना उनकी रणनीति की परिणीत माना जा रहा है। महिला, किसान, दलित और समाज के हर वर्ग के नजदीक पहुंच कर उनकी व्यथा कथा जानने की कांग्रेस महासचिव की कोशिश ने भाजपा, सपा और बसपा समेत अन्य विपक्षी दलों के माथे की सिलवटें गहरा दी हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co