महाराष्ट्र: देशमुख के बचाव में आए शरद पवार-बेगुनाही के बताए सबूत
महाराष्ट्र: देशमुख के बचाव में आए शरद पवार-बेगुनाही के बताए सबूतSocial Media

महाराष्ट्र: देशमुख के बचाव में आए शरद पवार-बेगुनाही के बताए सबूत

महाराष्ट्र में पुलिस अधिकारी परमबीर सिंह की चिट्ठी को लेकर बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस बीच आज NCP प्रमुख शरद पवार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर फिर अनिल देशमुख का बचाव करते हुए ये बात कही...

महाराष्ट्र, भारत। से महाराष्‍ट्र की राजनीति इस कदर सुलगी की अभी तक सियासी बवाल मचा हुआ है और आज सोमवार को संसद के दोनों सदनों में इस मुद्दे पर जमकर हंगामा मचा। इसी बीच एनसीपी प्रमुख शरद पवार प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अनिल देशमुख की बेगुनाही के सबूत बताए।

देशमुख के अस्पाल में भर्ती होने का दिखाया पर्चा :

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख के बचाव करते हुए फरवरी महीने में देशमुख के अस्पाल में भर्ती होने का पर्चा दिखाया। ऐसे में फरवरी में देशमुख और सचिन वाजे के बीच बातचीत का आरोप गलत है और कहा- कोरोना के चलते 5 से 15 तक वह नागपुर के अस्पताल में भर्ती थे। उसके बाद 16 फरवरी से 27 फरवरी तक वह होम आइसोलेट थे। यह साफ है कि आरोप गलत हैं, ऐसे में अनिल देशमुख के इस्तीफे का सवाल नहीं उठता। परमबीर सिंह के आरोपों से महाविकास अघाडी सरकार पर कुछ असर नहीं पड़ेगा।

आरोप जिस समय के बारे में था, उस समय की स्थिति क्या थी, यह साफ हो गया है। यह एक गंभीर चीज है। यह सीएम का काम है कि, वह इस पर एक्शन लेना चाहते हैं तो लें या जांच करना चाहते हैं तो करें। यह मेरा काम नहीं है। जिस समय का यह आरोप लगा है, उस समय अनिल देशमुख अस्पताल में थे। ऐसे में यह बात साफ है कि इस आरोप में कोई दम नहीं है।

एनसीपी प्रमुख शरद पवार

जांच को भटकाने की कोशिश :

इसके अलावा शरद पवार ने ये बात भी कही कि, ''पत्र में जांच को भटकाने की कोशिश की गई है। मैंने रविवार को महाराष्ट्र के सीएम से बात की है। देशमुख पर जांच को लेकर फैसला वही करेंगे।'' इसके साथ ही शरद पवार ने ये दावा भी किया कि, ''प्रदेश की सरकार पर इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा। मेरा एटीएस पर भरोसा है। वह सच्चाई सामने लाएगी। ऐसे माहौल में मेरा कुछ कहना ठीक नहीं क्योंकि इसका जांच पर असर पड़ेगा।''

शरद पवार का कहना है- पूर्व CP ने कहा है कि वो उसी दिन देशमुख से मिले। फिर वो एक महीने तक क्यों इंतजार करते रहे। जो कुछ आरोप लगा है वो जांच का विषय है। मुझे उस पर कुछ नहीं कहना है। मुझे खुशी है कि जो मेन केस है हत्या का, उसमें मुम्बई ATS ने आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जो इन्फॉर्मेशन आया है उसके बाद पूर्व CP के आरोप में कोई दम नहीं है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co