कोवैक्सीन को मंज़ूरी मिलना खतरनाक,स्वास्थ्य मंत्री दें स्पष्टीकरण: शशि थरूर
कोवैक्सीन को मंज़ूरी मिलना खतरनाक,स्वास्थ्य मंत्री दें स्पष्टीकरण: शशि थरूरSocial Media

कोवैक्सीन को मंज़ूरी मिलना खतरनाक,स्वास्थ्य मंत्री दें स्पष्टीकरण: शशि थरूर

कोरोना वैक्सीन के इस्तेमाल को मंजूरी मिलने के बाद विपक्ष नेताओं का सवाल उठाए जाने का दौर शुरु हो गया। अब कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कोवैक्सीन के आपात इस्तेमाल पर स्वास्थ्य मंत्री से स्पष्टीकरण मांगा।

दिल्ली, भारत। भारत में महामारी कोरोना वायरस से निपटने के लिए कोरोना वायरस की 2 वैक्सीन के इस्तेमाल को मंजूरी मिलने के बाद विपक्ष के नेताओं का बयानबाजी का दौर जारी है। अब कांग्रेस नेता शशि थरूर ने ‘कोवैक्सीन’ के आपात इस्तेमाल पर सवाल उठाते हुए स्वास्थ्य मंत्री से स्पष्टीकरण मांगा।

शशि थरूर ने ट्वीट कर लिखा :

भारत बायोटेक की कोविड-19 वैक्सीन 'कोवैक्सीन' को देश में आपातकालीन इस्तेमाल की मंज़ूरी मिलने पर कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने ट्वीट कर लिखा- कोवैक्सीन का अभी तक तीसरे चरण का ट्रायल नहीं हुआ। स्वीकृति समय से पहले मिली है...यह खतरनाक हो सकता है। डॉ. हर्षवर्धन (स्वास्थ्य-मंत्री) को स्पष्टीकरण देना चाहिए। सारे ट्रायल होने तक इसके इस्तेमाल से बचना चाहिए।

शशि थरूर के अलावा कांग्रेस नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने भी इसी तरह का सवाल उठाते हुए यह कहा कि, 'भारत बायोटेक प्रथम श्रेणी का उद्यम है, लेकिन यह हैरान करने वाली बात यह है कि चरण 3 परीक्षणों से संबंधित अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वीकृत प्रोटोकॉल कोवाक्सिन के लिए संशोधित किए जा रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को इसे बारे में स्पष्टीकरण देना चाहिए।''

बता दें कि, ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने भारत में सीरम इंस्टीट्यूट की 'कोविशील्ड' और भारत बायोटेक की 'कोवैक्सीन' को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co