राज्यसभा में SPG संशोधन बिल 2019 पेश, सदन में शुरू हुई बहस

राज्यसभा में SPG संशोधन विधेयक पेश कर दिया गया, इस पर सदन में बहस चल रही है और कांग्रेस की तरफ से इस पर सवाल भी उठाए जा रहे हैं, वहीं लोकसभा में प्याज कीमतों सहित अन्‍य मुद्दे पर हंगामा हुआ है।
राज्यसभा में SPG संशोधन बिल 2019 पेश, सदन में शुरू हुई बहस
Parliament Winter SessionSocial Media

राज एक्‍सप्रेस। संसद के शीतकालीन सत्र (Parliament Winter Session) के दौरान आज अर्थात 3 दिसंबर को राज्यसभा में SPG संशोधन बिल 2019 पेश हो गया है और इस पर सदन में बहस शुरू हो गई है। गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने एसपीजी विधेयक (संशोधित) पेश किया, जिसके तहत अब SPG सिर्फ प्रधानमंत्री को ही सुरक्षा देगी, हालांंकि 27 नवंबर 2019 को एसपीजी संशोधन बिल लोकसभा से पारित हो गया है।

एसपीजी कानून में संशोधन को समय की मांग बताते हुए गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने राज्यसभा में कहा-

इस बल को और अधिक प्रभावी बनाने तथा कानून के मूल उद्देश्य को बहाल करने के उद्देश्य से एसपीजी अधिनियम संशोधन विधेयक लाया गया है। यह विधेयक इसलिए लाया गया है ताकि एसपीजी कानून के मूल उद्देश्य को बहाल किया जा सके, बल को और अधिक प्रभावी बनाया जा सके।
गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी

अमित शाह ने कहा-

गृह राज्यमंत्री जी.किशन रेड्डी की ओर से पेश किए गए एसपीजी संशोधन विधेयक पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि, ''स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप ऐक्ट सिर्फ पीएम के व्यक्तिगत सुरक्षा की चिंता नहीं करता अन्य पहलुओं पर भी सुरक्षा करता है, जैसे पत्राचार वगैरह शामिल है। थ्रेट का सवाल है सिर्फ गांधी परिवार नहीं, बल्कि 130 करोड़ लोगों के सुरक्षा की जिम्मेदारी सरकार की है, एसपीजी की जिद क्यों की जा रही है।''

SPG संशोधन बिल पर चर्चा के दौरान बोले बीजेपी सांसद :

आखिर गांधी परिवार को खतरा किससे है पहले यह बताएं, क्या आप को खतरा उन कांग्रेसी समर्थकों से है जो बिना बुलाए आपके घर आ जाते हैं। इंदिरा गांधी की हत्या दुर्भाग्यपूर्ण है, लेकिन यह हत्या एक अतिवादी के द्वारा की गई।'
बीजेपी सांसद जीवीएल नरसिंह राव

हालांकि, नरसिंह राव के बयान के आद कांग्रेस खड़ा हो गया और कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है। इस पर खुद गृह मंत्री अमित शाह ने सफाई देते हुए कहा कि, जीवीएल सिर्फ हत्या का कारण बता रहे थे उसका समर्थन नहीं कर रहे थे, उन्होंने तो उल्टा उसको दुर्भाग्यपूर्ण बताया। अमित शाह ने आगे यह भी कहा कि, ''मैं खुद मांग करता हूं कि जीवीएल के इस बात को रिकॉर्ड से हटा दें।''

इन मुद्दे पर लोकसभा में जमकर हंगामा :

राज्यसभा में SPG संशोधन बिल 2019 पेश होने से पहले आज कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों ने प्याज की बढ़ती कीमतों, अर्थव्यवस्था और बेरोजगारी के मुद्दे पर लोकसभा में जमकर हंगामा किया हैं।

प्याज के आसमान छूते दाम पर संग्राम :

इस दौरान आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह और सुशील गुप्ता दोनों सांसद प्याज की माला पहनकर संसद में पहुंचे, यहां तक की दोनों ने अपने गले पर तख्ती टांगी हुई थी, जिसमें लिखा- पासवान जी कह रहे 32 हजार टन प्याज सड़ गई, प्याज सड़ा सकते हो जनता को दे नहीं सकते? प्याज सड़ी है या घोटाला हुआ?

दुष्कर्म की घटनाओं पर चिंता :

इसके अलावा कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद और अधीर रंजन चौधरी, समाजवादी पार्टी की नेता मेनका गांधी समेत कई विपक्षी नेताओं ने दुष्कर्म की घटनाओं पर चिंता जताई थी। इसके बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा- "हम इसके लिए कड़ा कानून लाने के लिए तैयार हैं।"

दुष्कर्मियों को हमेशा जेल में रखा जाना चाहिए। विपक्ष ने सोमवार को दुष्कर्म के दोषियों को सजा देने के लिए कड़ा कानून लाने की मांग की थी।
भाजपा सांसद हेमा मालिनी

बताते चलें कि, कल भी हैदराबाद में पशु चिकित्सक प्रियंका रेड्डी की दुष्कर्म के बाद हत्या मामले का विरोध-प्रदर्शन की गूंज संसद में रहीं थी। नीचे दी गई लिंक पर क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर-

हैदराबाद गैंगरेप: संसद में सभी का एकमत जल्‍द से जल्‍द हो सजा-ए-मौत

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co