Raj Express
www.rajexpress.co
Gotabaya Rajapaksa
Gotabaya Rajapaksa|Social Media
पॉलिटिक्स

श्रीलंका के राष्ट्रपति की मोदी से मुलाकात, कई मुद्दों पर चर्चा

श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे भारत के तीन दिवसीय दौरे पर आए हैं, हैदराबाद हाउस में दोनों नेताओं की द्विपक्षीय वार्ता हो रही हैै, जिसमें तमिल समुदाय समेत कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई...

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे (Gotabaya Rajapaksa) भारत के तीन दिन के दौरे पर आए हुए है। आज अर्थात 29 नवंबर को सबसे पहले वह महात्मा गांधी के स्मारक राजघाट पर माल्यार्पण करने पहुंचे, इसके बाद राष्ट्रपति भवन पहुंंचे।

कोविंद और मोदी ने किया स्वागत :

राष्ट्रपति भवन पहुंंचते ही राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनकी आगवानी करते हुए, औपचारिक स्वागत किया।

राष्ट्रपति भवन में गोटाबाया राजपक्ष, रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
राष्ट्रपति भवन में गोटाबाया राजपक्ष, रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
Social Media
राष्ट्रपति के रूप में मैं अपने कार्यकाल के दौरान श्रीलंका और भारत के संबंधों को उच्च स्तर पर ले जाना चाहता हूं। दोनों देशों में लंबे समय से मित्रता है। हमें अपने लोगों के आर्थिक विकास और सुरक्षा के लिए मिलकर काम करने की जरूरत है।
राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे

हैदराबाद हाउस में द्विपक्षीय वार्ता :

वहीं, हैदराबाद हाउस में PM मोदी और राष्‍ट्रपति गोटाबाया के बीच द्विपक्षीय वार्ता के दौरान दोनों नेताओं में इन मुद्दों पर चर्चा हुई हैं।

संयुक्त बयान में PM मोदी ने कहा- "श्रीलंकाई राष्ट्रपति को जीत की बधाई, यह हमारे लिए सम्मान की बात है कि, राष्ट्रपति राजपक्षे ने अपनी पहली विदेश यात्रा के लिए भारत को चुना और पद संभालने के दो हफ्ते के भीतर भारत में हमें उनका सम्मान करने का मौका दिया। दोनों देश अपने संबंधों को महत्व देते हैं, दोनों देशों की सुरक्षा और समृद्धि के लिए हम दोनों एक साथ काम करेंगे।"

इसके अलावा आप PM मोदी के इस ट्वीट में भी देख सकते हैै कि, उन्‍होंने क्‍या-क्‍या कहा-

इस दौरान PM मोदी ने यह भी कहा कि, 'मुझे विश्वास है कि श्रीलंका सरकार तमिलों की समानता, न्याय, शांति और सम्मान की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए रिकॉन्सिलेशन की प्रक्रिया को आगे बढ़ाएगी।'

भारत श्रीलंका का अच्छा मित्र :

भारत की शुभेच्छा और सहयोग हमेशा श्रीलंका के साथ है, भारत श्रीलंका का अच्छा मित्र है। मेरी सरकार की नीति है कि पड़ोसी पहले, हम दोनों देश एक-दूसरे की सुरक्षा के लिए सचेत हैं। हमने निर्णय लिया है कि दोनों देशों के बीच बहुमुखी साझेदारी को और मज़बूत करेंगे।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

भारत, श्रीलंका को देगा इतने मिलियन डॉलर :

प्रधानमंत्री द्वारा श्रीलंका में बुनियादी ढांचा और आर्थिक विकास, सोलर ऊर्जा को बढ़ावा देने और आतंकवाद से निपटने के लिए कुल 550 मिलियन डॉलर देने का ऐलान भी किया गया है।

  • भारत श्रीलंका की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए 2865 करोड़ रुपए (400 मिलियन डॉलर) के कर्ज की सुविधा (लाइन ऑफ क्रेडिट) दी जाएगी।

  • 716 करोड़ रु. (100 मिलियन डॉलर) का कर्ज सोलर परियोजना पर खर्च करने लिए दिए जाएंगे।

  • आतंकवाद से मुकाबला करने के लिए 358 करोड़ रु. (50 मिलियन डॉलर) की मदद देंगे।

राष्‍ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे ने कहा-

वहीं, श्रीलंका के राष्‍ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे ने कहा कि, ''वे भारतीय मछुआरों की जब्‍त नावों को छोड़ेंगे।''

बता दें कि, राष्ट्रपति चुनाव में गोटाबाया राजपक्षे ने जीत हासिल की थी, इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें जीत की बधाई देते हुए भारत आने का न्यौता दिया था और गुरूवार को ही राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली पहुंचे थे, यहां एयरपोर्ट पर केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने स्वागत किया था। राष्ट्रपति के रूप में पदभार संभालने के बाद यह उनकी पहली विदेश यात्रा है।

गोटाबाया की यात्रा का प्रदर्शन :

श्रीलंका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे की यात्रा को लेकर मारूमलार्ची द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एमडीएमके) के नेता वाइको ने गुरुवार को दिल्ली में समर्थकों के साथ प्रदर्शन भी किया था, हालांकि पुलिस प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लेकर पार्लियामेंट स्ट्रीट पुलिस स्टेशन ले गई।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।