Raj Express
www.rajexpress.co
Maharashtra Govt Floor Test
Maharashtra Govt Floor Test|Social Media
पॉलिटिक्स

SC अब इस अंदाज में कराएगी फ्लोर टेस्‍ट, जाने कहाँ अटका मामला

महाराष्ट्र की सत्ता पर अब किसका राज होगा यह मामला अब प्रोटेम स्पीकर पर टिका है, जानिए सुप्रीम कोर्ट में आज महाराष्ट्र की सियासी उठापटक पर क्‍या निर्णय लिया गया।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। महाराष्ट्र मामले पर आज 26 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट के 'महाराष्ट्र सरकार के फ्लोर टेस्ट' (Maharashtra Govt Floor Test) पर सबकी नजरें टिकी रहीं, कोर्ट ने अब 27 नवंबर की तारीख को फ्लोर टेस्ट का आदेश दिया है।

सुप्रीम कोर्ट की अहम बातें-

  • महाराष्ट्र में कल यानी 27 नवंबर को शाम 5 बजे तक फ्लोर टेस्ट करने का आदेश।

  • पहले प्रोटेम स्पीकर सभी विधायकों को शपथ दिलाएंगे, उसके बाद फ्लोर टेस्ट होगा।

  • फ्लोर टेस्ट में गुप्त मतदान नहीं, लाइव टेलिकास्ट किया जाएगा।

कोर्ट ने आज क्‍या कहा :

महाराष्ट्र मामले पर सुप्रीम कोर्ट का साफ कहना है कि, ''प्रोटेम स्पीकर भी नियुक्त हो और विधायकों की शपथ के बाद शाम 5 बजे तक फ्लोर टेस्ट पूरा हो जाना चाहिए। गुप्त मतदान नहीं बल्कि फ्लोर टेस्ट का लाइव टेलीकास्ट हो और प्रोटेम स्पीकर ही फ्लोर टेस्ट करवाएंगे। इसके अलावा प्रोटेम स्पीकर ही सभी विधायकों को शपथ दिलाएंगे।''

कोर्ट में जस्टिस एन वी रमण, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस संजीव खन्ना की पीठ ने फैसला पढ़ते हुए कहा-

लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा होनी चाहिए। कोर्ट और विधायिका पर लंबे समय से बहस चल रही है। अभी अंतरिम बात करनी है। अभी तक विधायकों की शपथ नहीं हुई है, लोगों को अच्छे शासन की जरूरत है।

अब देखना यह है कि, महाराष्‍ट्र की सत्‍ता पर किसका राज होगा, फडणवीस सरकार को कुर्सी छोड़नी होगी या फिर बच जाएगी, यह कल शाम 5 के बाद तय होगा, वहीं दूसरी तरफ सुप्रीम कोर्ट द्वारा आज लिए गए इस निर्णय से 'शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी' बेहद खुश है। इसके अलावा अब सबसे बड़ा मुद्दा यह उठता है कि, महाराष्ट्र में प्रोटेम स्पीकर कौन होगा, हालांकि सदन के वरिष्ठतम सदस्य एवं सबसे अधिक बार चुने गए विधायक को ही प्रोटेम स्पीकर के लिए नियुक्त किया जाता है।

कौन होगा प्रोटेम स्पीकर?

वैसे तो, राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को महाराष्ट्र विधानसभा में वरिष्ठता के आधार पर यह 6 नाम भेजे गए हैं।

  • फर्स्‍ट नंबर पर कांग्रेस के बालासाहेब थोराट का नाम है।

  • सेकंड नंबर पर बीजेपी के कालीदास कलमकार का नाम है।

इन 2 नामों के अलावा कांग्रेस के केसी पडवी, बहुजन विकास आघाडी पार्टी के जितेंद्र ठाकुर, पूर्व स्पीकर और एनसीपी नेती दिलीप वालसे पाटील और बीजेपी के बब्बन पचपुटे के नाम भी हैं।

SC के फैसले बाद कई नेता इसका स्वागत कर रहे हैं और अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं, जाने किसने क्‍या कहा...

एनसीपी नेता ने ट्वीट में लिखा :

सत्यमेव जयते, बीजेपी का खेल खत्म!
एनसीपी नेता नवाब मलिक

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर एनसीपी के मुखिया व शिवसेना नेता ने जताई खुशी :

सत्य परेशान हो सकता है.. पराजित नही हो सकता... जय हिंद!!
शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत
'लोकतांत्रिक मूल्यों और संवैधानिक सिद्धांतों को बनाए रखने के लिए, मैं सुप्रीम कोर्ट के प्रति प्रति आभारी हूं, यह हार्दिक खुशी की बात है कि, महाराष्ट्र का फैसला संविधान दिवस पर आया है, भारतरत्न डॉ. बाबासाहेब अम्बेडकर को श्रृद्धांजलि !'
एनसीपी के मुखिया शरद पवार

कांग्रेस नेता का कहना-

हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले से संतुष्ट हैं, देवेंद्र फडणवीस को तुरंत अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।
कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण

सुप्रीम कोर्ट के फैसले का कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी स्वागत किया है।

सुरजेवाला का भाजपा पर कटाक्ष :

सुप्रीम कोर्ट का निर्णय भाजपा-अजित पवार की नाजायज़ सरकार को तमाचा है, जिन्होंने ‘जनादेश’ को बंधक बना रखा था। ‘फ़्लोर टेस्ट’ को टाल चोर दरवाज़े से सत्ता हथियाने वालों की उल्टी गिनती शुरू हुई। सविंधान दिवस पर असंवैधानिक ताक़तों को शिकस्त मिली और सत्य की जीत हुई।
कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला

कोर्ट नंबर-2 खचाखच भरा :

सुप्रीम कोर्ट नंबर-2 में पूरी तरह से खचाखच भरा रहा, इस दौरान सुप्रीम कोर्ट में सभी पार्टियों के वकील शिवसेना की तरफ से अनिल देसाई, गजाजन कार्तिकर, कांग्रेस के मुकुल वासनिक, केसी वेणुगोपाल और पृथ्वीराज चौहान मौजूद हैं। इसके अलावा कपिल सिब्बल, अभिषेक मनु सिंघवी समेत कई वकील भी कोर्ट में हैं।

बता दें कि, महाराष्ट्र में बीजेपी ने 23 नवंबर की सुबह देवेंद्र फडणवीस को सीएम पद की शपथ तो दिला दी, लेकिन अब उसके सामने सरकार चलाने के लिए बहुमत साबित करने की चुनौती है, वहीं महाराष्ट्र राजनीति में सियासी संकट के बादल आज छटने की उम्‍मीद थी। नीचे दी गई लिंक पर क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर-

महाराष्ट्र: क्‍या आज SC करेगी फ्लोर टेस्‍ट पर सस्‍पेंस खत्‍म?

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।