बिहार को आगे बढ़ाने में रुचि नहीं, बल्कि अपनी कुर्सी बचानी है: तेजस्वी का नीतीश पर तंज
बिहार को आगे बढ़ाने में रुचि नहीं, बल्कि अपनी कुर्सी बचानी है: तेजस्वी का नीतीश पर तंजSocial Media

बिहार को आगे बढ़ाने में रुचि नहीं, बल्कि अपनी कुर्सी बचानी है: तेजस्वी का नीतीश पर तंज

बिहार की स्वास्थ्य प्रणाली पर नीति आयोग की रिपोर्ट पर RJD नेता तेजस्वी यादव कहा- हमने कहा था कि, यह थके हुए मुख्यमंत्री हैं। इनसे बिहार संभल नहीं रहा।

बिहार, भारत। बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव आए दिन किसी न किसी बात को लेकर राज्‍य की नीतीश सरकार की आलोचना करते है और वे कई बार CM नीतीश कुमार को थका हुआ CM करार दे चुके हैं। अब आज उन्‍होंने बिहार की स्वास्थ्य प्रणाली पर नीति आयोग की रिपोर्ट को लेकर RJD नेता तेजस्वी यादव ने तंज कसा है।

इनको बस अपनी कुर्सी बचानी है :

दरअसल, बिहार की स्वास्थ्य प्रणाली पर नीति आयोग की रिपोर्ट पर RJD नेता तेजस्वी यादव ने बिहार के CM नीतीश कुमार पर जोरदार तंज कसते हुए कहा- हमने कहा था कि, यह थके हुए मुख्यमंत्री हैं। इनसे बिहार संभल नहीं रहा। इनको बिहार संभालने में, बिहार के लोगों की तरक्की में और न ही बिहार को आगे बढ़ाने में कोई रुचि है, बल्कि इनको बस अपनी कुर्सी बचानी है।

स्वास्थ्य सेवा और अस्पतालों की हालत सबसे ज्यादा खराब :

इसके अलावा RJD नेता तेजस्वी यादव ने आज ट्वीट कर यह भी कहा कि, ''नीति आयोग की रिपोर्ट अनुसार 16 वर्षों की नीतीश-भाजपा सरकार में बिहार की स्वास्थ्य सेवा और अस्पतालों की हालत देश में सबसे ज्यादा खराब है।''

तेजस्वी यादव आज डॉक्टर से करेंगे बात :

बता दें कि, बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था पर आज रविवार को लालू यादव के छोटे बेटे और बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव डॉक्टर से बात करेंगे। वे डॉक्टर से बातचीत के दौरान बिहार की चिकित्सा प्रणाली से पीड़ित हर बीमारी की तह में जाने की कोशिश करेंगे। तेजस्वी यादव का कहना है कि, ''बिहार के लोगों ने बीजेपी और नीतीश जी को जितना समय और मौका देना चाहिए था, उससे कहीं ज्यादा मौका दिया है। 16 साल के शासन के बाद भी सीएम नीतीश कुमार और उनके अक्षम सहयोगी बहाना पेश कर सकते हैं, लेकिन सच तो यह है कि शिक्षा के अलावा स्वास्थ्य विभाग उनकी विफलताओं का एक और उदाहरण है।''

इतना ही नहीं बल्कि तेजस्वी यादव ने नीति आयोग का हवाला देते हुए यह बात भी कही है कि, ''बिहार का स्वास्थ्य विभाग सड़ रहा है। नीतीश सरकार डॉक्टरों, चिकित्सा कर्मचारियों और गरीब मरीजों की दुर्दशा से अंधी हो गई है।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.