यूपी महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित राज्य : कांग्रेस
यूपी महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित राज्य : कांग्रेसSocial Media

यूपी महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित राज्य : कांग्रेस

कांग्रेस विधानमंडल दल नेता आराधना मिश्रा मोना ने उत्तर प्रदेश को महिलाओं के लिए सर्वाधिक असुरक्षित राज्य बताया है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश को महिलाओं के लिए सर्वाधिक असुरक्षित राज्य करार देते हुए कांग्रेस विधानमंडल दल नेता आराधना मिश्रा मोना ने कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली भाजपा सरकार में कोई दिन नहीं जाता जब महिलाओं के साथ घटनाएं न घटित हो रही हों।

श्रीमती मिश्रा ने गुरूवार को कहा कि मथुरा के कोसींकलां में दरोगा की परीक्षा देकर वापस आ रही बेटी के साथ बलात्कार की घटना सरकार के मुंह पर काला धब्बा है, यह घटना दिखाती है कि प्रदेश में दिन में भी चलना सुरक्षित नहीं रहा। एक तरफ मुख्यमंत्री आदित्यनाथ रात 12 बजे सुरक्षा का वादा करते है वहीं केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह दूरबीन लेकर अपराध ढूंढ रहे हैं मगर दोनो को प्रदेश में जंगलराज और महिलाओं पर अत्यचार दिखाई नहीं देता। वे अगर अपने विभाग के आंकड़ों पर भी नजर डाल लें तो पता चल जाएगा कि भाजपा सरकार की अकर्मण्यता के चलते महिला अपराध में उत्तर प्रदेश नंबर एक बन गया है। कोई दिन नहीं जाता जब महिलाओं के साथ बलात्कार ना होता हो घटनाएं न होती हों।

उन्होंने कहा कि कारण स्पष्ट है कि सरकार की नीयत ही महिला विरोधी है, प्रदेश में महिलाओं के साथ हुई जघन्य घटनाओं में प्रत्येक बार सरकार पीड़ित के साथ खड़ी होने के बजाय बलात्कारियों और अपराधियों के साथ खड़ी होकर बचाते नजर आई। एनसीआरबी के आंकड़ों में स्पष्ट है कि देश में महिला अपराध में यूपी में 2018 से 2020 तक नम्बर वन बना हुआ है जबकि 2021 में महिला अपराध में और तेजी से इजाफा हुआ है।

उन्नाव का कुलदीप सेंगर कांड हो, या शाहजहांपुर का चिन्मयानंद कांड और हाथरस में गैंगरेप पीड़िता को रात 2:30 बजे पेट्रोल डालकर जला देना, सभी में सरकार बलात्कारियों के साथ खड़ी नजर आई, कानपुर के शेल्टर होम की घटना कोई भूला नहीं है जहां नाबालिग बच्चियां कोरोना जांच में गर्भवती मिलीं।

एक तरफ भाजपा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की बात करती है दूसरी तरफ पंचायत चुनाव में दिन में महिला की साड़ी खींची जाती है और अपराधियों पर कोई कार्यवाही नहीं होती, महिलाओं के साथ बढ़ती आपराधिक घटनाएं दर्शाती हैं कि भाजपा को अपराध नियंत्रण में कोई रुचि नहीं है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.