Raj Express
www.rajexpress.co
पाक को जवाब देती रहे सेना
पाक को जवाब देती रहे सेना|Pankaj Baraiya - RE
राज ख़ास

पाक को जवाब देती रहे सेना

आतंकियों को भारत में घुसपैठ कराने की कोशिशों में जुटी पाक सेना को सेना ने फिर करारा जवाब दिया है। सेना ने पाक के कम से कम 5 से 7 सैनिक और आतंकवादी मार गिराए हैं। सेना की इस कार्रवाई पर सभी को गर्व है

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस, भोपाल।आतंकियों को भारत में घुसपैठ कराने की कोशिशों में जुटी पाकिस्तानी सेना को भारतीय सेना ने फिर करारा जवाब दिया है। भारतीय सेना ने जम्मू-कश्मीर के केरन सेक्टर में फॉरवर्ड पोस्ट पर पाकिस्तानी आर्मी के बैट (बॉर्डर ऐक्शन टीम) अटैक को नाकाम कर दिया है। इस दौरान सेना के जवाबी ऐक्शन में पाक के कम से कम 5 से 7 सैनिक और आतंकवादी मारे गए। पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम में आम तौर पर पाक फौज के ही जवान और आतंकी शामिल होते हैं। यह कार्रवाई पिछले 24 से 36 घंटों के दौरान हुई है। गौर करने वाली बात यह है कि पाक आतंकियों के शव अब भी एलओसी पर पड़े हैं। भारी गोलीबारी के चलते शवों को हटाया नहीं जा सका है और ना ही उनकी पहचान हो पाई है। सेना ने सबूत के तौर पर उनमें से चार शवों की सैटेलाइट तस्वीरें भी ली हैं। रक्षा प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया, कुपवाड़ा जिले के केरन सेक्टर की एक फॉरवर्ड पोस्ट पर बैट हमले की कोशिश को वहां मुस्तैद जवानों ने नाकाम कर दिया। इस दौरान जवाबी ऐक्शन में 5 से 7 पाकिस्तानी आतंकी मार दिए गए।

31 जुलाई और एक अगस्त की दरम्यानी रात में पाकिस्तान की कुख्यात बॉर्डर ऐक्शन टीम ने घात लगाकर हमला किया था। कम से कम चार शव पाकिस्तानी सेना के स्पेशल सर्विस ग्रुप के कमांडो के हो सकते हैं। वे भारतीय चौकी के करीब पहुंच चुके थे। इसके बाद पाकिस्तानी सैनिकों ने फायरिंग तेज कर दी जिससे भारतीय जवान आतंकियों के शवों को कब्जे में न ले सकें। सीमा पर सेना की कार्रवाई अब भी जारी है। पाकिस्तान ने भी एलओसी के दूसरी ओर सामान्य से ज्यादा सैनिकों की तैनाती कर रखी है। भारतीय सेना के एक्शन से पाकिस्तान घबरा गया है। मगर इससे सबक लेने के बजाय पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा के पास पीओके में सेना के लिए एडवाइजरी जारी की है। पाक ने एलओसी पर सेना को अलर्ट रहने के लिए कहा है। पाकिस्तान ने एलओसी के पास मुजफ्फराबाद में एडवाइजरी जारी करते हुए सेना को अलर्ट किया है। खैर यह पाक की नियति है। वह कभी सुधरने वाला नहीं है। अब तक न जाने कितनी बार भारतीय सेना ने पाकिस्तान को धूल चटाई है, मगर एक भी बार उसने न तो गलती स्वीकारी और न ही पछतावा किया।

खैर, यह पाकिस्तान की फितरत है। मगर सेना को इस समय दोतरफा वार झेलना पड़ रहा है। पाकिस्तान के हमलों का मुंहतोड़ जवाब देना और अपने देश के नेताओं की तरफ से आ रहे सवालों को झेलना। मगर इस बार सेना ने पूरी तैयारी कर रखी थी। उसने न सिर्फ पाक के सैनिकों को ढेर किया, बल्कि उनकी तस्वीरें भी जारी की। सेना के इस काम का असर यह हुआ कि अब तक किसी के मुंह से यह कहते नहीं सुना गया कि सबूत दो। न तो घर में और न ही सीमा पार से। सेना ने कुछ दिनों में जिस तरह की कार्रवाई की है, वह स्वागत योग्य है। उसे अपना काम जारी रखना चाहिए।