Raj Express
www.rajexpress.co
पाक का नया पैंतरा 'गजनवी'
पाक का नया पैंतरा 'गजनवी'
राज ख़ास

पाक का नया पैंतरा 'गजनवी'

कश्मीर पर दुनियाभर में बेइज्जत होने के बाद अब पाकिस्तान ने नया पैंतरा चला है। वह जंग और परमाणु हथियारों के बहाने दुनिया को संकट में डालने की धमकी दे रहा है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। कश्मीर पर दुनियाभर में बेइज्जत होने के बाद पाक ने नया पैंतरा चला है। वह जंग और परमाणु हथियारों के बहाने दुनिया को संकट में डालने की धमकी दे रहा है। इसी तारतम्य में उसने बैलिस्टिक मिसाइल गजनवी का परीक्षण किया है, मगर सारी कोशिशें व्यर्थ है।कश्मीर पर दुनियाभर में बेइज्जत होने के बाद अब पाकिस्तान ने नया पैंतरा चला है। वह जंग और परमाणु हथियारों के बहाने दुनिया को संकट में डालने की धमकी दे रहा है।

इसी तारतम्य में उसने बैलिस्टिक मिसाइल गजनवी का सफल परीक्षण कर लिया है। इस बात की जानकारी खुद सेना पाकिस्तान के मेजर जनरल आसिफ गफूर ने दी है। इसकी मारक क्षमता 290 किमी बताई जा रही है। पाक के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी और प्रधानमंत्री इमरान खान ने मिसाइल परीक्षण से जुड़ी टीम की सराहना की और बधाई दी। इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस के महानिदेशक गफूर ने अपने ट्वीट के साथ मिसाइल के परीक्षण का एक वीडियो भी साझा किया।

भारत के साथ तनाव के बीच पाकिस्तान युद्ध का माहौल बनाने की कोशिश कर रहा है। उसने दुनिया का ध्यान अपनी ओर खींचने के लिए इस परीक्षण को अंजाम दिया है। हालांकि गजनवी से कहीं अधिक बेहतर मिसाइलें भारत के पास पहले से ही मौजूद हैं। गजनवी मिसाइल का परीक्षण कराची के करीब सोनमियानी उड़ान परीक्षण रेंज से अंजाम दिए जाने की खबर है।पाकिस्तान के पास ऐसी मिसाइल पहले से ही है, ऐसे में मिसाइल का परीक्षण कर उसने ऐसा कर दुनिया को तनाव का संदेश दिया है।

जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 के खंड दो और तीन के हटने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। ना केवल पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान बल्कि वहां के वित्त मंत्री तक परमाणु युद्ध की धमकी दे रहे हैं। दूसरी ओर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह भी कह चुके हैं कि भारत परमाणु हथियारों के इस्तेमाल की नीति को बदल सकता है। लेकिन क्या वाकई दोनों देश परमाणु युद्ध का जोखिम उठाने की स्थिति में हैं?

अगर जापान के हिरोशिमा और नागासाकी की बात करें तो आज भी यहां परमाणु हमले का असर बरकरार है। परमाणु हमले के समय यहां बड़ी संख्या में लोगों की जान गई थी। हालात नर्क से भी बदतर हो गए थे। परमाणु हमले का असर और उसका खौफ आज भी यहां के लोग महसूस करते हैं। तो अगर पाकिस्तान और भारत के बीच परमाणु युद्ध होता है तो उसका असर भी छोटा-मोटा नहीं होगा।अगर भारत-पाकिस्तान एक दूसरे पर परमाणु हमला करते हैं, तो काफी बड़ी तबाही मचेगी। बम जहां गिरेगा वहां से 0.79 किमी तक सब कुछ खाक हो जाएगा।

परमाणु वैज्ञानिकों की रिपोर्ट के अनुसार एयर ब्लास्ट-1 से 3.21 किमी तक झटके महसूस किए जाएंगे और 10.5 किलोमीटर तक इसका रेडिएशन फैलेगा। इससे 50 से लेकर 90 फीसदी लोग प्रभावित होंगे। हालांकि, पाक जैसी धमकी दे रहा है या सोच रहा है, वैसा कर पाना संभव नहीं है। पाक की परमाणु धमकी इस मायने में बेअसर है कि एक तो उसमें ऐसा कर पाने का साहस नहीं है। दूसरी उसकी हालत बदतर है। पाक सिर्फ धौंस दे रहा है, जैसा अब गजनवी के समय किया है।

डिस्क्लेमर: इस लेख के भीतर व्यक्त की गई राय लेखक की निजी राय है। लेख में दिखाई देने वाले तथ्य और राय राज एक्सप्रेस के विचारों को प्रतिबिंबित नहीं करते हैं और राज एक्सप्रेस किसी भी जिम्मेदारी या दायित्व को स्वीकार नहीं करता है।